केंद्र सरकार ने WhatsApp को लेकर की चेतावनी जारी ,गलत मेसेज भेजने पर सतर्क रहने की सलाह दी

नई दिल्ली । व्हाट्सएप्प पर इन दिनों एक फेक मैसेज सर्कुलेट हो रहा है, जिसमें दावा किया गया है कि केंद्र सरकार की तरफ से कोविड-19 फंड से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी भारतीय नागरिकों को 1.30 लाख रुपये भुगतान का आदेश दिया है। इस तरह के मैसेज के साथ एक लिंक साझा की गई है। इस लिंक पर क्लिक करके फंड के लिए वेरिफाई करना होता है कि आखिर किसे 1.30 लाख रुपये का फंड मिलेगा और किसे नही। WhataApp यूजर को ऐसे किसी भी मैसेज पर भरोसा नही करना चाहिए। साथ ही इस मैसेज की लिंक पर क्लिक नही करना चाहिए। ऐसा करने पर आप फ्रॉड का शिकार हो सकते हैं। केंद्र सरकार की तरफ से साफ किया गया है कि यह एक फर्जी मैसेज है। सरकार ने ऐसा कोई आदेश नही जारी किया है। सरकार की मानें, तो इस तरह के मैसेज को यूजर डेटा चोरी करने और बैकिंग फ्रॉड को अंजाम देने के लिए तैयार किया जाता है। इस मैसेज की लिंक पर क्लिक करने पर आपका मोबाइल हैक हो सकता है। इससे हैकर्स आपको फोन से सारी जानकरी ऑटोमेटिक डाउनलोड कर सकते हैं। इस तरह के मैसेज सोशल मीडिया पासवर्ड, UPI डिटेल चोरी कर सकते हैं। इसी तरह कुछ वक्त पहले एक अन्य फर्जी मैसेज WhatsApp पर शेयर किया गया था, जिसमें दावा किया गया था कि केंद्र सरकार की तरफ से मुफ्त में भारतीय नागरिकों को सोलर पैनल देने की स्कीम चलायी जा रही है। इसके लिए यूजर से एक फॉर्म फिल कराया जाता था। इस फॉर्म के जरिए हैकिंग की घटना को अंजाम दिया जाता था। मौजूदा वक्त में फिशिंग अटैक भारत में काफी पॉप्युलर टूल है। इसमें मैसेज, या फिर किसी इलेक्ट्रॉनिक मोड के जरिए एक लिंक भेजी जाती है। इसमें फर्जी सोशल मीडिया का यूआरएल होता है, जिस पर आईडी पासवर्ड डालते ही आपकी अहम जानकारी चोरी कर ली जाती है।

Leave a Reply