CM शिवराज की मैराथन कॉन्फ्रेंस के बाद नीमच SP हटाए गए, कलेक्टर पर भी दिखाई नाराजगी

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कलेक्टर-कमिश्नर आईजी- एसपी के साथ मैराथन वीडियो कांफ्रेंस का आफ्टर इफेक्ट शुरू हो गया है. नीमच एसपी (SP) मनोज कुमार राय को हटा दिया गया है. उनकी जगह अब सूरज कुमार वर्मा नये एसपी होंगे. नीमच पुलिस के कुछ कर्मचारियों पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगा था.कॉन्फ्रेंस में सीएम शिवराज ने इस पर कड़ी नाराज़गी जताई थी.
भोपाल में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर-कमिश्नर आईजी-एसपी के साथ मैराथन वीडियो कांफ्रेंस की. इस दौरान अच्छा काम करने वाले अफसरों और उनके ज़िलों की तारीफ की गयी. लेकिन काम में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को सबके सामने ही फटकार लगायी. मुख्यमंत्री ने उन्हें भविष्य के लिए हिदायत भी दे दी कि वो अपना रवैया सुधार लें.जिन अधिकारियों से नाराजगी जाहिर की उनमें कटनी कलेक्टर, नीमच एसपी और पथ विक्रेता निधि से जुड़े अधिकारी शामिल हैं. बैठक के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने एक तरफ जहां मध्यप्रदेश के डेवलपमेंट को लेकर अधिकारियों से मैराथन चर्चा की.
कलेक्टर से नाराजगी जाहिर की
सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कटनी जिला कलेक्टर को फटकार लगाई.उन्होंने कटनी में किसानों द्वारा जाम लगाए जाने की जानकारी मांगी. सीएम कटनी कलेक्टर की कार्रवाई से नाखुश हुए. कलेक्टर को उचित कार्रवाई के निर्देश देते हुए शिवराज ने कहा कि धान खरीदी केंद्र पर समुचित व्यवस्था, सही मापदंड से तुलाई एवं किसानों के पेमेंट को लेकर कोई लापरवाही न बरती जाए. वहीं आयुष्मान भारत के कार्ड वितरण में लेट लतीफी पर अलीराजपुर, पन्ना,बड़वानी,डिंडोरी, झाबुआ कलेक्टर से नाराज़गी जाहिर की.
नीमच एसपी को फटकार
सीएम ने कॉन्फ्रेंस में नीमच एसपी को भी फटकार लगाई.नीमच में कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा अपराधियों को संरक्षण दिए जाने की घटना पर मुख्यमंत्री नाराज हुए और पुलिस को कार्यशैली बदलने की हिदायत दी.नीमच में कुछ पुलिसकर्मी के खिलाफ अपराधियों को संरक्षण देने की लगातार शिकायत सामने आ रही है।
आनियमिताओं को लेकर भी नाराज़गी व्यक्त
सीएम ने कॉन्फ्रेंस के दौरान पीएस नितेश व्यास से पूरी जानकारी ली और जिलों में हो रही अनियमितताओं पर नाराजगी व्यक्त की. कुछ जिलों में प्रकरण मंजूर होने में देरी, पैसा देने में लेट लतीफी और बैंकों द्वारा समय पर पैसा न भेजने पर सीएम नाराज हुए.सीएम ने स्पष्ट निर्देश दिए कि मध्यप्रदेश स्ट्रीट वेंडर योजना में देश में नंबर 1 है. हमें इसे बरकार रखना है. इसमें कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.सिस्टम को दुरुस्त किया जाए और काम की नियमित मॉनिटरिंग हो।

Leave a Reply