स्वच्छता अभियान को गुमराह कर रही है नगर परिषद मनासा

मनासा:—- देखा जा रहा है कि आजकल नगर परिषद स्वच्छता अभियान के अंदर धज्जियां उड़ाने के अंदर कोई कमी नहीं छोड़ रही है मनासा के अंदर एक ऐसा वार्ड है वार्ड नंबर 15 जिसमें ईश्वर नगर आता है उसके अंदर कई महीनों से नालियों की सफाई नहीं हुई है यहां की महिलाएं खुद अपने हाथों से नालियां साफ कर रही है देखा गया है कि महीने में एक बार सफाई के लिए नगर परिषद के कर्मचारी आते हैं और जहां उनको अच्छा लगता है वहां पर सफाई करते हैं फोटो खींचते हैं और आगे भेज देते हैं नगर परिषद में स्वच्छता अभियान के अंदर जिस अधिकारी को नियुक्त कर रखा है उसको ईश्वर नगर के आमजन फोन लगाकर सफाई के लिए निवेदन करते हैं परंतु दोनों की कोई सुनवाई नहीं होती है ऐसे में देखने में आया है कि यहां की नालिया कई महीनों से साफ नहीं हुई है यही नहीं जब यहां पर सीसी रोड बनाया गया था तब नालियों का ढलान जहां पर देना था वहां पर इन लोगों ने नहीं दिया उसके चलते हुए कॉलोनी के रेवासी भारी बदबू का सामना कर रहे हैं कई बार यहां के लोगों ने राजनीतिक लोगों को सूचित किया था राजनीतिक लोगों ने भी नगर परिषद के कर्मचारियों को आदेशित किया था परंतु आज दिन तक यहां की नालियां साफ नहीं हुई है ऐसा क्या है क्या स्वच्छता अभियान को नगर परिषद पानी फेंकने पर तैयार है शासन प्रशासन लाखों करोड़ों रुपए स्वच्छता अभियान के ऊपर खर्च कर रहा है ऐसे में क्या ईश्वर नगर वंचित रह सकता है जागरूक इंसानों ने सीएमओ को फोन लगाया सीएमओ ने स्वच्छता अधिकारी को फोन लगाया स्वच्छता अधिकारी ने वहां के मीट को फोन लगाया मैंने फोन करता को फोन लगाया परंतु स्वच्छता अधिकारी ने अभी तक कोई कर्मचारी नहीं भेजें क्या यहां के रेवासी गंदगी के अंदर ही जिएंगे यहां के रहवासियों का कहना है कि एक बार शाम के टाइम आ कर देखें कि यहां पर कितने मच्छर गंदगी के कारण घरों में घुसते हैं अगर यहां की साफ सफाई समय पर होवे तो अच्छा है बहुत से घरों में दो नल कनेक्शन तक नहीं है इसके कारण जल का भारी प्रकोप झेल रहे हैं यहां के निवासी केवल एक कुड़ी है उस कुड़ी से पानी का इस्तेमाल करते हैं जो कि कॉलोनी नाइजर ने अपनी व्यवस्था दे रखी है इसके अलावा मनासा नगर परिषद से ईश्वर नगर में जन सुविधा के लिए कोई व्यवस्था नहीं है आमजन का कहना है कि अगर आने वाले टाइम में ईश्वर नगर के अंदर नालिया साफ रोड साहब नहीं हुए तो हम यहां के रेवासी हो सकता है कि किसी भी पार्टी को वोट देने के लिए नहीं जाएंगे अब देखना है कि नगर परिषद मनासा इसके लिए क्या करती है

Leave a Reply