अहिरवार समाज के लिए जीवन जीने वाले थे – गरीबदास मेंधोनिया


छुआछूत की लड़ाई लड़ी नरसिंहपुर ओर होशंगाबाद :ये अहिरवार समाज के लोगों के मददगार रहे। –
—-—————————-
चीचली /नरसिंहपुर (कबीर मिशन पत्रिका) नरसिंहपुर जिले की आन बान शान छुआछूत की अनवरत लड़ाई लडने वाले पुरोधाश्री गरीबदास मेंधोनिया जी थे। जो कि मूलतः चीचली तहसील गाड़रवारा जिला नरसिंहपुर के निवासी रहे बडे कास्तकार रहे। समय-समय पर अत्याचार, अन्याय व के विरुद्ध लगातार समाज हित में कार्य करते रहे। ये पंचायत के चुनाव में लगातार निर्विरोध पंच /पार्षद रहे। उन के हर घर में आने वाले लोगों का सदैव सम्मान होता रहा है। स्वर्गीय श्री गरीबदास की सेवाओं पर गांव की हर समितियों में प्रतिनिधित्व करने का सोभाग्य प्राप्त रहा है। ये समाज की सांस्कृतिक गतिविधियां को बढ़ावा देते हुए आगे बढ़ते हुए, चीचली में संत शिरोमणि रविदास जी महाराज के मंदिर की नींव रखी है। जो आज चीचली में भव्य स्वरूप ले रहा है।
सर्वविदित हो कि चीचली नगर में जब छुआछूत की लड़ाई गरीबदास जी लड रहे थे वह 1980 का समय था जब इनके मार्गदर्शन में श्री सी बी खेमरे, मूलचंद मेंधोनिया प्रमुख रूप से गैरबराबरी के लिए लड़ाई लडी एवं सफल रहे। स्वर्गीय श्री गरीबदास जी को गाडरवारा के श्री अशोक नीखरा, अनूप नीखरा, कौशलेंद्र श्रीवास्तव, रवि जयसवाल का हमेशा साथ रहा है।
आज अहिरवार समाज का महान समाज हितैषी हमारे बीच नहीं है। उनकी दिनांक 08 /04 2021 को पांचवीं पुण्य तिथि है। हम आप सभी सामाजिक बन्धुगण ओर मानवीय विचारक उन्हें श्रद्धांजलि, श्रद्धा सुमन अर्पित कर उनको नमन ओर पुष्पांजलि अर्पित है।

Leave a Reply