बहुजन हितैषी दलित साहित्यकार, रविदासी कुल के – – डॉक्टर रामकुमार अहिरवार जी का परिनिर्वाण।


अब आप /हम उन्हें किताबों में ही याद करेगें।
“” “” “” “” “” “” “” “” “” “” “” “
भोपाल। (कबीर मिशन पत्रिका) बौद्ध वैश्य टेकरी और बहुजन इतिहास के अगृणी महान, दलित साहित्यकार संत शिरोमणि रविदास जी महाराज के जीवन पर अनंत लेख व शोध पत्र लिखने वाले विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन के प्राचीन इतिहास विभाग के अध्यक्ष तथा स्वर्ण पदक प्राप्त डॉक्टर रामकुमार जी का दिनांक 8 /4/2021 को उज्जैन में हो गया है। बहुजनो के राष्ट्रीय विचारक और अम्बेडकरी लेखकों के बीच में अपना महत्पूर्ण स्थान रखने वाले डॉक्टर /प्रोफेसर माननीय श्री राजकुमार अहिरवार जी का परिनिर्वाण होने से समस्त देश के वुदिजीवियो को दुख पहुंचा है। डाक्टर श्री अहिरवार जी को अब आप हम सदैव किताबों व इतिहासकार के रूप में याद रखेंगे। उनकी अहिरवार समाज के लिए एक महान विद्वान की कमी बनी रहेगी। भगवान बुद्ध उन्हें अपनी शरण में लेकर परिवार को इस अकल्पनीय दुख को सहने की शक्ति प्रदान करे। दलित साहित्यकार मूलचंद मेंधोनिया भोपाल ने श्री अहिरवार जी के निधन पर व्यक्तिगत छति मानते हुए विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित है।

Leave a Reply