ईमानदारी की मिसाल बने सोसायटी प्रबंधक विजय भाटी किसान का 10400 रुपया घर जाकर लौटाया


मनासा
डॉ. बबलु चौधरी
वैश्विक महामारी और लॉकडाउन की मार में जहां लोगों के पास कमाई के साधन पूरी तरह से ठप्प पड़े हैं ऐसे में प्रशासनिक कर्मचारी लगातार जान हथेली पर लेकर काम कर रहे हैं। ऐसे में सोसाइटी कर्मचारी किसानों की वसूली की राशि को जमा करने के लिए सोसाइटी में बैठे हुए हैं। ऐसे में एक अनोखा मामला सामने आया जहां एक किसान द्वारा सोसाइटी में पैसा जमा करवाने के दौरान 10 हजार ज्यादा देकर चले गए ऐसे में सोसाइटी के प्रबंधक द्वारा किसान के घर जाकर वापस पैसे दिए गए। यह घटना थोड़ी ही देर में पूरे गांव को पता चल गई और हर कोई प्रबंधक की इमानदारी की मिसाल देने लग गया।

दरअसल मामला मनासा तहसील के ग्राम पिपलिया रावजी का है जहां सोसाइटी प्रबंधक विजय भाटी किसानों के बकाया ऋण को जमा करने के लिए सोसाइटी में बैठ रहे है। इस दौरान स्थानीय किसान कुबेर सिंह जी शक्तावत ने खाते में जमा करवाने के लिए वसूली के 129600 रूपये की जगह भूलवश 1 लाख 40 हजार रूपये दे दिए थे।

एक घण्टे पश्चात सोसायटी प्रबंधक विजय भाटी ने उन्ही पेसो को गिना तो 10400 की राशि अधिक थी। श्री भाटी ने अपनी ईमानदारी और कर्तव्य निष्ठा का परिचय देते हुए तुरंत किसान के घर जाकर 10400 रूपये की राशि लौटाई। कुछ ही देर में यह मामला पुरे गाव को पता चल गया और विजय भाटी ईमानदारी की एक मिसाल बन गए।

Leave a Reply