मांग नहीं मानी तो स्कूलों में ताला लगेगा। साथ ही ऑनलाइन कक्षाएं भी बंद रहेंगी और शासकीय कार्यों का भी बहिष्कार करेंगे

भोपाल:—– मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल से संबंध निजी स्कूलों ने मान्यता के लिए पांच साल के लिए नवीनीकरण मांगा है। साथ ही शासन से स्कूल खोलने और मान्यता नवीनीकरण के लिए पांच साल करने की लिए मांग कर रहे हैं।
इसे लेकर प्रायवेट स्कूल एसोसिएशन ने शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा में कहा कि अगर हमारी मांगें नहीं मानी गई तो 12 जुलाई को प्रदेश के मंडल से संबद्ध स्कूलों में ताला लगेगा। साथ ही ऑनलाइन कक्षाएं भी बंद रहेंगी और शासकीय कार्यों का भी बहिष्कार करेंगे। एसोसिएशन के अध्यक्ष अजीत सिंह का कहना है कि कोरोना काल में मान्यता नवीनीकरण के नाम पर परेशान किया जा रहा है। इससे पहले पिछले साल स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने पांच साल नवीनीकरण किए जाने की घोषणा की थी। इसके बावजूद अभी तक आदेश जारी नहीं हुए है। एसोसिएशन से जु.डे प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंडल से संबद्ध करीब 45 हजार स्कूल अपनी मांगों को लेकर 12 जुलाई से स्कूलों की आनलाइन क्लास बंद करने का निर्णय लिया है।

आरटीई का भुगतान करें
एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा कि आरटीई के तहत प.ढने वाले बच्चों का तीन साल से फीस का भुगतान नहीं किया गया है। इससे निजी स्कूलों को परेशानी हो रही है। पिछले साल से स्कूलों को अभिभावक शिक्षण शुल्क भी नहीं दे रहे हैं। शासन को स्कूलों को आर्थिक मदद करनी चाहिए।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply