रेट ठेकेदार कंपनी नरसिंहपुर धनलक्ष्मी मर्चडाईज कंपनी बौखलाए दीया पत्रकार को नोटिस मानहानि के प्रकरण में फंसाने की धमकी के साथ

अभयवाणी संपादक को नोटिस मिलने पर कबीर मिशन कड़ी निंदा करता है :मूलचन्द मेधोनिया


गाडरवारा ।नरसिंहपुर
लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ ही पत्रकारिता के माध्यम से देश और समाज की सेवा करता है। जिसे दबाव देना अथवा अनावश्यक रूप से नोटिस देना ठीक नहीं है। बाबा साहब डाक्टर अम्बेडकर जी ने मौलिक अधिकारों के साथ ही अभिव्यक्ति का अधिकार देश को देते हुए पत्रकारिता जैसे महान कार्य को लोकतंत्र संविधान में शक्ति देते हुए अपने जन हितैषी देश कल्याण के लिए अभिव्यक्ति का अधिकार प्रदत्त किये गये हैं। अभयवाणी संपादक की आवाज़ दबाने अथवा डराने हेतु दिये गये नोटिस की घोर निंदा कबीर मिशन समाचार पत्र मध्यप्रदेश की टीम द्रारा घोर निंदा करते हुए उनके द्रारा सत्य की लड़ाई में साथ है।
अभयवाणी संपादक जिला नरसिंहपुर पत्रकार अभय बानगात्री (हिंदुस्तानी)को जिला नरसिंहपुर रेत ठेकेदार कंपनी धनलक्ष्मी मर्चेडाइज कंपनी द्वारा खबर प्रकाशन को लेके धनलक्ष्मी कंपनी ने अपने लीगल अधिवक्ता द्वारा नोटिस दिया गया हैं जिसमे अभयवाणी संपादक के ऊपर मानहानि जैसे प्रकरण लगाने की बात कही गई हैं जबकि अभयवाणी में 8 जुलाई को खबर प्रकाशित हुई थी उक्त खबर में प्रशासन की सामूहिक कार्यवाही को प्रकाशित किया गया था उसमें किसी भी कंपनी और न किसी भी रेत माफिया का नाम प्रकशित नही किया गया था उसके बाबजूद भी एक पत्रकार को नोटिस दिया गया जिस संबंध में आज पुलिस महानिदेशक भोपाल के नाम उपपुलिस अधीक्षक गाडरवारा को एम पी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन गाडरवारा द्वारा ज्ञापन दिया गया हैं जिसमे ऐसे हिटलर शाही रवैये से पत्रकारों की आवाज न दबाई जाये एवं पत्रकार स्वतंत्र हैं उसको उसकी जन हितेषी खबरों को रोकने का प्रयास न किया जाए अगर ऐसे नोटिस पत्रकारों को मिलते रहे तो किसी दिन पत्रकारों को एक जुट हो कर धरना देने के लिए बाध्य होना पड़ेगा क्योंकि पत्रकार जनता की आवाज को प्रशासन तक पहुँचाता हैं, ज्ञापन में शामिल एम पी वॉर्किंग यूनियन के जिलाअध्यक्ष लवली खनूजा,अरविंद स्थापक,अभिषेक मेहरा, मनोज पटेल, पारस सोनी, रमजान खान, सोनू पटेल, सज्जाद खान, पवन कौरव, कैलाश रजक, इमरान खान, डॉ ब्रजेश रजक, सुरेंद्र विश्वकर्मा, धर्मेद्र विश्वकर्मा, राकेश प्रजापति एवं अन्य साथी सदस्य उपस्थित रहे।।

Leave a Reply