2000 लोगों के खाने ने 2021 के शासन के आदेशों की उड़ाई धज्जियां ग्राम पंचायत जवासिया में

निप्र करण नीमा
शासन प्रशासन के आदेश की अवहेलना होती धज्जियां उड़ती दिख रही है मंदसौर जिले के भाव गढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम जवासिया में जहां पर जहां पर अभी-अभी गुलाब चंद जी पाटीदार का स्वर्गवास हुआ है
उसी के चलते उनके परिजनों द्वारा कल दिनांक 11 अगस्त 2021 को कोविड-19 की महामारी को नजरअंदाज करते हुए अपनी मनमानी करते हुए बिना अधिकारी के परमिशन के गांव में लगभग 2000 व्यक्तियों का खाने का कार्यक्रम कुमावत धर्मशाला में रखा है
जहा पर कल आने वाले आमंत्रित व्यक्तियों के भोजन की व्यवस्था आज रात्रि को चल रही है
जैसे ही यह सूचना गुप्त सूत्रों द्वारा मीडिया के जागरूक रिपोर्टरों के पास पहुंचते ही उन्होंने अपने स्तर पर संबंधित विभाग को अवगत कराते हुए प्रशासन की मदद की
जहा से यह उम्मीद लगाई है की तीसरी लहर का जो अन्य राज्यों में असर दिखाई दे रहा है यह यहां पर ना हो एवं आमजन को दोबारा इस समस्या का सामना ना करना पढ़े जिन हालातों से कुछ समय पूर्व आम जन रूबरू हुए हे
ऐसे हालातो से गुजरने के बाद शायद ही कोई ऐसा होगा जो दुबारा इस महामारी को निमंत्रण दे
लेकिन जिन महाशय ने एसे में इस महामारी को आमंत्रित करने के लिए लगभग 2000 निमंत्रण दिए हैं
यह आश्चर्यजनक सोचने वाली बात है अभी महाशय का नाम भी आपको बताते हैं जिन्होंने अपनी बुद्धि का परिचय देते हुए यह अनोखा काम किया है
गोर्धन लाल रामनिवास रमेश एवं विनोद पाटीदार जो कि स्वर्गवासी गुलाबचंद जी पाटीदार के पुत्र एवं होते हैं
अंदेशा लगाया जाता है कि गुलाबचंद जी पाटीदार के साथ पूरी बरात को भेजने का अच्छा खासा इंतजाम कर दिया हे
तो प्रशासन के उच्च अधिकारियों का भी दायित्व बनता है के इन महान व्यक्तियों का भी अच्छा सम्मान करें ताकि आगे इस प्रकार के आयोजन करने वाले को एक संदेश पहुंचे

Leave a Reply