नीमच प्रशासन ने 37 क्विंटल डोडाचूरा के मामले में तस्कर मनीष तिवारी के घर पहुंचे अधिकारी 80 दिन बाद हुआ एक्शन

नीमच। प्रशासन ने 37 क्विंटल डोडाचूरा के मामले में सोमवार को बड़ी कार्रवाई की। प्रशासनिक अधिकारी करीब 80 दिन बाद एक्शन मोड में आए और जेसीबी सहित भारी पुलिस बल को लेकर तस्कर मनीष तिवारी के घर पहुंचे। जहां जेसीबी की मदद से तस्कर तिवारी के मकान को ढहाने की कार्रवाई की। इस कार्रवाई को देखने के लिए क्षेत्रीय रहवासियों की भीड़ भी जमा हुई। उल्लेखनीय है कि शहर के तिलक नगर में किराये का मकान लेकर धनिया की आड़ में मंडी व्यापारी मनीष तिवारी द्वारा डोडाचूरा की तस्करी की जा रही थी। जिसे मुखबिर की सूचना पर नीमच सिटी पुलिस ने पहुंचकर दबिश दी थी। 10 जुलाई को की गई इस कार्रवाई में 37 क्विंटल डोडाचूरा, चार पिकअप, एक मिनी ट्रक, बाइक सहित अन्य उपकरण बरामद हुए थे। पुलिस ने यहां से चौकीदार गोपाल रेवारी को गिरफ्तार किया गया था। जबकि तस्कर मनीष तिवारी व उसका एक साथी हरिओम पंडित फरार हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने तस्कर तिवारी के नीमच, मनासा में स्थित मकानों पर सर्चिंग की थी। उस दौरान करीब 3 करोड़ से अधिक की चल-अचल संपत्ति सामने आई थी। तिवारी की तलाश में साइबर सेल, नीमच सिटी टीआई करणीसिंह शक्तावत, जीरन टीआई योगेंद्रसिंह, मनासा टीआई केएल दांगी की टीम सीएसपी आरएम शुक्ला के निर्देशन में लगी थी। मनासा टीम ने तस्कर तिवारी के मंदसौर में मेघदूत नगर स्थित एक मकान पर भी दबिश दी। लेकिन यहां से पुलिस को निराश होकर लौटना पड़ा था। तिवारी से डोडाचूरा ले जाने वाला तस्कर हो चुका है गिरफ्तार- 37 क्विंटल डोडाचूरा तस्करी मामले में पुलिस की एसआईटी की एक टीम को टीआई योंगेंद्रसिंह सिसोदिया के नेतृत्व में सफलता मिली थी। फरार तस्कर तिवारी से डोडाचूरा खरीदकर राजस्थान ले जाने वाले तस्कर को गिरफ्तार किया था। टीम ने अजमेर जिले के बांदनवाड़ा में संपत उर्फ नरेंद्रसिंह पिता भागचंद रावत निवासी गोवलिया जिला अजमेर को गिरफ्तार किया था। यह आरोपित तस्कर तिवारी से प्रत्येक माह 3 से 4 बार 4 से 5 क्विंटल डोडाचूरा खरीदकर राजस्थान ले जाता था।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply