समग्र आर्थिक विकास योगदान के लिये कृषि उत्पादन में बढ़ोतरी की पहल, उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के तहत पूर्वोत्तर परिषद की परियोजना

सिक्किम में मशीनों की सहायता से खेती करने की परियोजना को सिक्किम सरकार का खाद्य सुरक्षा एवं कृषि विकास विभाग क्रियान्वित कर रहा है। परियोजना की स्वीकृत लागत 504.05 लाख रुपये है। इसमें पूर्वोत्तर परिषद का योगदान 453.65 लाख रुपये है और राज्य सरकार 50.40 लाख रुपये देगी। परियोजना का स्थान सिक्किम के पूर्वी, पश्चिमी और उत्तर-दक्षिण जिले हैं।

परियोजना का उद्देश्य व्यक्ति के योगदान को बढ़ाना है। इसी तरह खेती कार्य के पशुओं का भी समुचित उपयोग किया जायेगा। इसका लक्ष्य सक्रियता सुनिश्चित करना, कृषि उत्पादन में लगने वाली विभिन्न इकाइयों की लागत कम करना, खेती की आय बढ़ाना और समग्र आर्थिक विकास में योगदान करना है।

बिजली से चलने वाले खेती के उपकरणों का योगदान की तुलना अगर बैलों द्वारा जुताई करने की प्रक्रिया से की जाये, तो बिजली के उपकरणों का योगदान ज्यादा होता है और उसमें समय भी कम लगता है। इससे खेती के मौसम में अजोत भूमि का रकबा कम होता है, जिसके कारण फसल बढ़ती है, रोजगार और आय में इजाफा होता है।

Leave a Reply