मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी में होल ब्रेन लीडरशिप विषय पर वेबिनार*

*मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी में होल ब्रेन लीडरशिप विषय पर वेबिनार*
भोपाल से संतोष योगी की खबर
भोपाल 8 जून 2021। मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी में होल ब्रेन लीडरशिप विषय पर वेबिनार का आयोजन किया गया।वेबिनार में देश के जाने माने लीडरशिप कोच और ऑथर, आईआईटी गांधीनगर के एडजंक्ट प्रोफेसर राजीव आर. शर्मा ने मानव मस्तिष्क को समझते हुए अपने व्यवहार में परिवर्तन लाने के टिप्स दिए।
उन्होंने ब्रेन थिंकिंग मॉडल को समझाते हुए कहा कि मानव मस्तिष्क दो भागों में बांटा हुआ है – लेफ्ट ब्रेन और राइट ब्रेन। कुछ लोगों का लेफ्ट ब्रेन ज्यादा एक्टिव होता है जो की एल -1 और एल-2 की कैटेगरी में आते हैं। वहीं कुछ लोगों का राइट ब्रेन ज्यादा एक्टिव होता है जो कि आर-1 और आर-2 की कैटेगरी में आते हैं। जिंदगी से जुड़े कई सारे उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि यदि हम यह पहचान सकें कि व्यक्ति का मस्तिष्क किस तरह से कार्य करता है तो उसके अनुसार व्यवहार करके परिस्थितियों पर विजय पा सकते हैं। और यहीं से आपकी सफलता की राह खुलती है जिस पर चलकर आप आसानी से लीडर बन सकते हैं।
इससे पहले कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. अरुण कुमार पांडेय ने कहा कि आज का यह वेबिनार विद्यार्थियों की कम्युनिकेशन स्किल्स को निखारने के साथ ही उनके व्यक्तित्व में भी सकारात्मक बदलाव ला सकेगा। उन्होंने यह भी कहा कि मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी की स्थापना के समय स्व. श्री के.के. तिवारी जी का विजन था कि हम विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास पर जोर दे सकें। विश्वविद्यालय के प्रो- चांसलर इंजी. गौरव तिवारी ने कहा कि सभी में लीडरशिप की क्षमता होती है, आवश्यकता इस बात की है कि इस क्षमता को विकसित किया जाए। इस सेमिनार में मैनेजमेंट विभाग कि विभागाध्यक्ष डॉ. शेफाली त्रिपाठी सहित बड़ी संख्या में शिक्षक शिक्षिकाएं और विद्यार्थी मौजूद रहे।

Leave a Reply