सिग्मा सामाजिक कल्याण समिति ने किन्नरों का आज किया सम्मान

भोपाल से संतोष योगी की खबर फरवरी को मनाए जाने वाले विश्व सामाजिक न्याय दिवस के दिन सिग्मा सामाजिक कल्याण समिति के सदस्यों द्वारा किन्नरों के साथ हो रहे भेदभाव के लिए जागरूकता के लिए किन्नरों की बस्ती मंगलवारा से लेकर किन्नरों की बुधवारा स्थित बस्ती तक रैली का आयोजन किया इस दौरान समिति के अध्यक्ष राजीव तिवारी ने बताया कि एक छोटा बच्चा जिसके शरीर में ईश्वर प्रदत्त विकृति आ गई है उसे किन्नर परंपरा के अंतर्गत किन्नरों को सौंप दिया जाता है जहां ना उसे शिक्षा मिलती है ना जीवन के लिए मानक सुविधाएं। इस परंपरा के द्वारा उस निरीह बालक का भविष्य निर्धारित कर दिया जाता है कि वह बड़ा होकर लोगों के घरों में जाकर नाचेगा गायेगा और पैसा इकट्ठा करेगा उसे बचपन में ही अच्छे भविष्य से दूर कर दिया जाता है।न इन बच्चों की शिक्षा दीक्षा होती है न इन्हें मां बाप का प्यार मिलता है यह लोग उपेक्षित जीवन जीने को विवश होते हैं और समाज में इनका उपहास किया जाता है । इनका जीवन नारकीय और दोयम दर्जे का होता है। संस्था के सदस्यों ने इन पीड़ित किन्नरों का फूल मालाओं से स्वागत कर सामाजिक परंपरा के कारण हो रही इन की दुर्दशा के लिए इन से माफी मांगी। इस कार्यक्रम में श्री श्री राजीव तिवारी रविंद्र मालवीय जसवंत कुशवाहा असगर खान श्रीमती अवंतिका तिवारी कुमारी प्रियल अवस्थी कुमारी ऐश्वर्या पंडित स्नेहा मिश्रा भूपेश उपाध्याय विभूति सक्सेना अजय देवनानी भुवनेश्वर जायसवाल श्रीमती अनीता गोस्वामी आदि सहित सैकड़ों लोग शामिल हुए ।

Leave a Reply