मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्रीमती सावित्री बाई फुले की पुण्य-तिथि पर किया नमन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने महान समाज सुधारक श्रीमती सावित्री बाई फुले की पुण्य-तिथि पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास कार्यालय स्थित सभागार में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की। विधायक श्रीमती मनीषा सिंह तथा श्री सीताराम आदिवासी ने भी पुष्पांजलि अर्पित की।

श्रीमती सावित्री बाई फुले का जन्म 3 जनवरी 1831 को हुआ था। वे भारत के प्रथम बालिका विद्यालय की पहली प्रिंसिपल और पहले किसान स्कूल की संस्थापक थी। सावित्री बाई ने अपने जीवन को एक मिशन की तरह से जिया। उनका उद्देश्य विधवा विवाह कराना, छुआछूत मिटाना, महिलाओं की मुक्ति और दलित महिलाओं को शिक्षित बनाना रहा। उन्होंने 3 जनवरी 1848 में पुणे में अपने पति के साथ मिलकर विभिन्न जातियों की 9 छात्राओं के लिए बालिका विद्यालय की स्थापना की। ऐसे दौर में जब लड़कियों की शिक्षा पर सामाजिक पाबंदी थी, तब श्रीमती फुले न सिर्फ स्वयं पढ़ी बल्कि उन्होंने लड़कियों के पढ़ने के लिए भी व्यवस्था की। दस मार्च 1897 को उनका निधन हुआ।

Leave a Reply