स्वामी विवेकानंद की जयंती ताम्रकार मोल सीहोर में मनाई गई

DG NEWS SEHORE

सीहोर से सुरेश मालवीय की रिपोर्ट 8871288482

सीहोर । स्थानीय ताम्रकार मॉल बस स्टैंड के सभागार में राष्ट्रीय कवि संगम जिला इकाई सीहोर के बैनर तले काव्यगोष्ठी एवं विचारगोष्ठी आयोजित की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता ओमप्रकाश वर्मा ने की। मुख्य अतिथि शंकरलाल जायसवाल, विशेष अतिथि, प्रयास मल्टीपर्पज फाउंडेशन के प्रदेश प्रभारी सुरेश मालवीय उपस्थित रहे। सर्वप्रथम अतिथियों ने माँ सरस्वती एवं स्वामी विवेकानन्दजी के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर विचार गोष्ठी का शुभारंभ किया। सरस्वती वन्दना डॉ. विजेन्द्र जायसवाल ने की। काव्यगोष्ठी का संचालन युवा कवि लक्ष्मण चौकसे ने किया। अतिथियों का स्वागत नवीन जायसवाल, बालमुकन्द राय ने किया। स्वामी विवेकानन्द के जीवन पर प्रकाश डालते हुए शंकरलाल जायसवाल ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ब्रिटिश शासन के तहत प्रचलित शिक्षा प्रणाली से पूरी तरह से असंतुष्ट थे । वह शिक्षण की भारतीय पद्धति की वकालत करते थे । उन्होंने घोषणा की थी कि हमारे देश की संपूर्ण शिक्षा हमारे अपने हाथों में होनी चाहिए , लक्ष्मण चौकसे ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानद शिक्षा के माध्यम से व्यक्तित्व के व्यापक विकास में विश्वास करते थे । उनके अनुसार शिक्षा मानव जीवन की इस सच्चाई को महसूस करने का माध्यम है कि हम सभी एक ही ईश्वर के अंश हैं डॉ. विजेन्द्र जायसवाल ने कहा कि विवेकान्दन जी का मूलमंत्र था कि उठो, जागो और ध्येय की प्राप्ति तक रूको मत, इस अवसर पर युवा सुरेश मालवीय को प्रदेश प्रभारी बनाये जाने पर युवाओं ने साफा व अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मान किया।

इस अवसर पर उपस्थितजनों में शंकरलाल जायसवाल, विजेन्द्र जायसवाल, ओम प्रकाश वर्मा , मुकेश राय ,अनिल राठौर, कपिल वर्मा, राकेश बरेठा, धर्मेंद्र राजपूत, गोविंद लोवनिया, बालमुकुंद राय, नवीन जायसवाल ,जगदीश परमार, विभोर चौकसे, जय विश्वकर्मा आदि उपस्थित रहे । अंत मे आभार राष्ट्रीय कवि संगम जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह चौकसे ने माना।

About सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS

View all posts by सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS →

Leave a Reply