सूरज के तीखे तेवर से पारे में उछाल, दोपहर के समय हो रहा गर्मी का अहसास

DG NEWS SEHORE

सीहोर से सुरेश मालवीय की रिपोर्ट 8871288482

सीहोर । मौसम में एक बार फिर बदलाव हुआ है, सूरज के तेवर जैसे ही तीखे हुए हैं, रोजाना पारे में उछाल आ रहा है। तापमान हो रही बढोत्तरी के कारण से सुबह शाम की ठंड रह गई है। दोपहर के समय तो गर्मी का अहसास हो रहा है। जैसे जैसे धूप तेज होगी तो चने की फसल भी जल्द पकेगी। तापमान में आए बदलाव के कारण से फिलहाल कड़ाके की सर्दी से राहत मिली हुई है। रात और दिन के तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है, जबकि चार दिन पहले तापमान में कमी आई थी, वहीं शीत लहर चल रही थी, शीतलहर के कारण से दिन के समय भी लोग गर्म कपड़ों में ढंके हुए नजर आ रहे थे। लेकिन मौसम में फिर बदलाव आने के कारण से लोगों को सर्दी से राहत मिली हुई है।

तापमान में हो रही बढ़ोतरी

बीते दिनों से जिले में तापमान में उतार चढ़ाव जारी है। इस संबंध में शहर के आरएके कालेज के मौसम विशेषज्ञ एसएस तोमर ने बताया कि जिले में दिन अधिकतम तापमान 28 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं रात का तापमान 12 डिग्री दर्ज किया गया है। बीते तीन चार दिनों में रात के तापमान में करीब चार डिग्री की बढ़ोत्तरी हुई है। वहीं तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है। बीते 24 घंटों में आसमान साफ रहा।

पकने लगी चने की फसल

जिले में इस बार बरसात कम हुई थी, इस कारण से जिन किसानों के पास सिंचाई के पर्याप्त इंतजाम नहीं थे, उन्होंने चने की फसल की बोवनी की थी, जिले में अधिकांश किसानों ने अक्टूबर महीने में चने की फसल की बोवनी कर दी थी, किसानों की माने तो चने की फसल करीब एक पखवाड़े के भीतर पक जाएगी। किसान फसल की कटाई की तैयारी करने लगे हैं। दूसरी तरफ जैसे जैसे तापमान में बढ़ोत्तरी होगी वैसे ही फसल जल्द पकेगी।

क्या कहते हैं किसान

इस संबंध में किसान रघुवीर वर्मा ने बताया कि जिन किसानों ने गेहूं की फसल की लेट बोवनी की थी, ऐसे खेतों में खडी गेहूं की फसल में सिंचाई की आवश्यकता है, लेकिन जल स्तर कम होने के कारण से सिंचाई व्यवस्था गड़बड़ा रही है। फसल में जब बालियां लगती है और ऐसे में पानी की कमी रहती है तो गेहूं का दाना कमजोर हो जाता है, इससे किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है।

About सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS

View all posts by सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS →

Leave a Reply