Shahdol:- हैंडराइटिंग ऐसी की टाइपिंग करने की नहीं पड़ती जरूरत

Sulekha kushwaha shahdol;

  • हैंडराइटिंग ऐसी की टाइपिंग करने की नहीं पड़ती जरूरत

शहडोल. लोगों की साफ.-सुथरी और आकर्षक लिखावट अच्छे व्यक्तित्व को दर्शाती है और लोगों का व्यक्तित्व उनके लेखन से परिभाषित होता है। यही वजह है कि लोगों की लिखावट जीवन में काफी महत्वपूर्ण होती है। साथ ही आधुनिक टेक्नालॉजी के दौर में भी अच्छी हैण्डराइटिंग वालों को महत्व नहीं घटा है। अच्छी लिखावट देखकर लोग आज और भी ज्यादा प्रभावित होते है और लिखने वाले को सम्मानित करने से नहीं चूकते। समाज में उनकी आज भी विशिष्ट पहचान है। संभागीय मुख्यालय में पत्रिका ने दो अच्छे हैण्डराइटिंग वाले सेवानिवृत्त कृषि वैज्ञानिक डॉ. भानूप्रताप सिंह और ग्राम बरूका निवासी ग्राम सचिव शिवशंकर मिश्रा से मुलाकात कर उनके अनुभवों को जानने का प्रयास किया तो कई रोचक जानकारियों निकल कर सामने आई है और उन जानकारियों को उन्हीं की जुबानी से हम आप तक पहुंचा रहे है।

About सुलेखा कुशवाहा शहडोल

View all posts by सुलेखा कुशवाहा शहडोल →

Leave a Reply