ब्लैक में बिक रहे हैं स्टांप पेपर, वेंडर बोला अधिकारी पैसा मांगते हैं VIDEO वायरल

बी.एल शाक्य, ब्यूरो चीफ

शिवपुरी।शहर में स्टांपों को लेकर जहां मारामारी हो रही है वहीं कोर्ट परिसर के बाहर बैठने वाले स्टांप बेंडर ग्राहकों से बगैर सुविधा शुल्क लेकर स्टांप मुहैया नहीं करा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शुक्रवार को वायरल हुए एक वीडियो में सामने आया।
कोर्ट परिसर के बाहर बैठने वाले स्टांप बैंडर से एक युवक स्टांप खरीदने पहुंचा तो उससे 50 रुप्ए के स्टांप के एवज में 60 रुप्ए लिए गए। वहीं जब उक्त युवक ने इस बात का विरोध किया कि 10 रुपए किस बात के लिए जा रहे हैं।
इस पर स्टांप बेंडर दिनेश शर्मा का कहना था कि ट्रेजरी वालों को पैसे देने पड़ते हैं तब उनको स्टांप मिलते हैं। फिलहाल स्टांप बेंडर की शिकायत डीआर और ट्रेजरी ऑफिसर को की गई। जिस पर ट्रेजरी अफसर ने उसका लाइसेंस निलंबित करने की बात कही है।
यह हुआ वायरल वीडियो में खुलासाशुक्रवार को कोर्ट परिसर के बाहर स्टांप बेंडर का काम करने वाले दिनेश शर्मा का एक ऐसा वीडियो वायरल हुआ है जिसमें स्टांप बेंडर खुलेआम ट्रेजरी अफसर पर सुविधा शुल्क लेने के आरोप लगा रहा है। दरअसल शुक्रवार की दोपहर एक युवक चिराग अनुकंपा नियुक्ति को लेकर 300 रुपए के स्टांप लेने दिनेश शर्मा के पास पहुंचा था, लेकिन स्टांप बेंडर दिनेश शर्मा ने 50 रुपए के 5 स्टांप उसे यह कहकर दिए कि 50 का स्टांप 60 रुप्ए में मिलेगा।
इस पर युवक ने 5 स्टांप के 300 रुपए अदा किए। वहीं जब दो और स्टांपों की आवश्यकता की बात युवक ने कहीं तो स्टांप बेंडर का कहना था कि 50 का स्टांप 60 में ही मिलेगा, लेना हो तो लो। हमें ट्रेजरी वालों को भी तो देना पड़ता है। तब हमको स्टांप मिलते हैं। इस बीच युवक ने पूरे वाकए का वीडियो बना लिया और ट्रेजरी अफसर और डीआर से स्टांप बेंडर की शिकायत की है।
इनका कहना हैस्टांप के एवज में कोई रुपए नहीं लिए जाते। स्टांप बेंडर के आरोप निराधार है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।सीआर कंबल, डीआर शिवपुरी।

Leave a Reply