शिवपुरी में ही होगी सेना की भर्ती: उपद्रव न हो इस लिए प्लान तैयार, युवाओ को बसो से भेजा जाऐगा बाहर | Shivpuri News

बी.एल शाक्य, ब्यूरो चीफ

शिवपुरी। सन 2013 में शिवपुरी में सेना की भर्ती हुई थी,इस भर्ती में आए युवाओ ने शहर में उपद्रप मचाते हुए काफी तोडफोड कर दी थी। इसके बाद शिवपुरी जिले में सेना की भर्ती नही हुई थी। अब सेना की भर्ती को आयोजन शिवपुरी में रखा गया है। किसी भी प्रकार की घटना और उपद्रव न हो इस कारण प्रशासन ने तैयारी करते हुए पूरा एक प्लान तैयार किया हैं।
जानकारी के अनुसार सेना की भर्ती में फिजिकल टेस्ट में फेल होने वाले युवा समूह बनाकर कोई उपद्रव न कर सकें, इसलिए इस बार फिजिकल ग्राउंड से ही उनकी वापसी कराने की योजना जिला प्रशासन ने बनाई है। दरअसल 6 साल पहले (सितंबर 2013) हुई सेना की भर्ती में चयनित न होने वाले युवाओं ने जमकर उपद्रव किया था, इसके बाद शिवपुरी में सेना की भर्ती पर रोक लगा दी गई थी।
अब फिर शिवपुरी में सेना भर्ती आयोजित की जा रही है। इस बार उपद्रव न हो, इसलिए मॉनीटरिंग समिति ने निर्णय लिया है कि गुना, ग्वालियर और झांसी आने-जाने के लिए 100 बसें यहां लगाई जाएं ताकि शहर में युवा घुसें ही नहीं और उन्हें बाहरी रास्ते के जरिए ही शहर से बाहर भेज दिया जाए। यह भर्ती जिलेवार होगी। इसमें प्रत्येक जिले से प्रतिदिन 4 हजार के करीब युवाओं के आने की संभावना है।
सेना भर्ती की तैयारी को लेकर जिले के प्रशासनिक अधिकारियों और सेना के अफसरों के बीच बैठक हुई। इस बैठक में तय हुआ कि इस बार भर्ती प्रक्रिया शिवपुरी से ही होगी। श्रीमंत माधवराव सिंधिया खेल परिसर की जगह फिजिकल कॉलेज परिसर में भर्ती कैंप आयोजित किया जाएगा। इस कैंप में आने वाले युवाओं के लिए साइंस कॉलेज का भी उपयोग होगा जिसमें युवाओं को कुछ तैयारियाें के लिए बैठाया जाएगा।

इसके बाद उन्हें साइंस काॅलेज से 500 मीटर दूर फिजीकल कॉलेज में बने रनिंग ट्रैक पर दौड़ाकर फिजिकल टेस्ट लिया जाएगा। टेस्ट में जो चयनित होंगे, उनकी लिखित परीक्षा भी इसी परिसर में होगी। वहीं जो छात्र फिजिकल टेस्ट में फेल हो जाएंगे, उन्हें यहीं से बसों में बैठाकर शहर से बाहर भेज दिया जाएगा।
मौका मुआयना कर अधिकारियों को सौंपे दायित्व: सैन्य अधिकारी एचएस नेगी, कलेक्टर अनुग्रहा पी, एसपी राजेश सिंह चंदेल, एडीएम आरएस बालौदिया, डिप्टी कलेक्टर मनोज गढवाल सहित जिले के सभी विभागीय अधिकारियों की टीम बैठक में मौजूद थी। आरटीओ को गुना, ग्वालियर और झांसी तक आने जाने के लिए 100 बसों के इंतजाम करने को कहा गया।

12 से 15 दिन चलेगी भर्ती

सैन्य अधिकारियों के साथ हमारी बैठक आज फिजिकल कॉलेज में हुई जहां सभी व्यवस्थाओं का जायजा अधिकारियों ने लिया। कलेक्टर के निर्देश पर सभी अधिकारियों को दायित्व दिए गए हैं। जनवरी के पहले सप्ताह में 12 से 15 दिन के लिए यह भर्ती प्रक्रिया होगी।आरएस बालौदिया, एडीएम,शिवपुरी

Leave a Reply