धान की मिलिंग समय-सीमा में पूरी करें : मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan


खरीफ की उपार्जित धान, मिलिंग और रबी के उपार्जित गेहूँ के निवर्तन की समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि धान की मिलिंग का कार्य समय-सीमा में पूरा करें। अभी तक उपार्जित कुल 37 लाख मीट्रिक टन धान में से 20 लाख मीट्रिक टन धान की मिलिंग कर ली गई है। शेष 17 लाख मीट्रिक टन धान की मिलिंग समय-सीमा में पूरी कर ली जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में खरीफ 2021 की धान के उपार्जन, खरीफ 2020 की धान की मिलिंग एवं रबी 2019-20 के उपार्जित गेहूँ के निवर्तन की समीक्षा कर रहे थे। प्रदेश के 11 जिलों में शत-प्रतिशत मिलिंग का कार्य पूरा कर लिया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मार्च 2022 तक प्रदेश के सभी जिलों में शत-प्रतिशत मिलिंग का कार्य पूरा करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उपार्जन, परिवहन, भण्डारण के कार्य में यदि कोई समस्या है, तो उसे दूर कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि संबंधित मंत्रियों के ध्यान में लाकर समस्या का निराकरण सुनिश्चित करें। किसानों को धान के समर्थन मूल्य का भुगतान उनके बैंक खातों में किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि मोटे अनाजों की पीडीएस वितरण प्रणाली के लिए आवश्यक तैयारी की जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चमक विहीन गेहूँ का सुरक्षित भण्डारण एवं भारतीय खाद्य निगम के माध्यम से गेहूँ का उठाव भी समय पर कराने के निर्देश दिए।

बैठक में खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस एवं संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply