मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट उद्यान में अर्जुन एवं कदम्ब का पौधा रोपा

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट उद्यान में ”गौ-ग्रास एक पहल” संस्था की श्रीमती सुनीता तिवारी और श्रीमती रेणु बंसाली के साथ अर्जुन और कदंब का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान अपने संकल्प के क्रम में प्रतिदिन पौध-रोपण कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान पर्यावरण- संरक्षण के लिए पौध-रोपण के कार्य में समाज की भागीदारी को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रतिदिन सामाजिक संस्थाओं, स्वयंसेवी संस्थाओं और पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करने वाले व्यक्तियों के साथ पौध-रोपण करते हैं।

”गौ-ग्रास एक पहल” संस्था द्वारा रसोई घर में बचे खाद्य पदार्थों (किचन वेस्ट) से गौ-सेवा की शुरुआत की गई है। संस्था द्वारा किचन वेस्ट को एक साधन के रूप में बदलते हुए गायों को गौ-ग्रास के रूप में देना शुरू किया गया है। इससे गौ-माता को भोजन देने की संस्कृति जीवित हुई और गीले कचरे का प्रबंधन भी सुनिश्चित किया जा सका है। भोपाल की आकृति इको सिटी की ब्लू स्काई हाई और फ्लेमिंगो में रहने वाली गृहणियों की पहल और प्रयास है कि ज्यादा से ज्यादा घरों और सोयाइटी को भी गौ-ग्रास की पहल से जोड़ा जाए और इस नवाचार को अन्य शहरों तक भी पहुँचाया जाए।

आज लगाए गए कदम्ब या कदम के पेड़ को देव का वृक्ष माना जाता है। कदम्ब आयुर्वेद में अपने औषधीय गुणों के लिए प्रसिद्ध है। इसके फल नींबू की तरह होते हैं। कदंब के फूलों का अपना अलग महत्व है। प्राचीन वेदों और रचनाओं में इन सुगन्धित फूलों का उल्लेख मिलता है। अर्जुन का वृक्ष औषधीय वृक्ष है, जिसकी छाल एवं रस का उपयोग हृदय एवं क्षय रोग जैसी बीमारियों में लाभ दायक है। यह वृक्ष 60 से 80 फीट की ऊँचाई का होता है। सदा हरा रहने वाला यह वृक्ष हिमालय की तराई एवं शुष्क स्थानों पर पाया जाता है। अर्जुन का वृक्ष मध्यप्रदेश में भी काफी संख्या में पाया जाता है।

Leave a Reply