सोशलमीडिया पर सूयर्ग्रहण के अवैज्ञानिक तथ्य कहीं लगा न दें आपकी समझ पर ग्रहण -सारिका घारू

DG NEWS

संवाददाता सुरेश मालवीय 8871288482

मध्यप्रदेश

कल से आरंभ हो रहे दिसम्बर माह में शनिवार 4 दिसम्बर 2021 केे

पूर्ण सूर्यग्रहण पर विशेष –

4 दिसम्बर को जब आप दोपहर में गुनगुनी धूप सेंक रहे होगे तब अंटाकर्टिका क्षेत्र में कुछ पल के लिये छा जायेगा अंधेरा

4 दिसम्बर को कहीं धूप, कहीं अंधेरा , देखें सूर्य ग्रहण का आनलाईन नजारा -सारिका घारू

सोशलमीडिया पर सूयर्ग्रहण के अवैज्ञानिक तथ्य कहीं लगा न दें आपकी समझ पर ग्रहण -सारिका घारू

वैसे तो हमारे देश में सूयर्ग्रहण देखने के लिये लगभग एक साल का इंतजार बाकी
है लेकिन पृथ्वी के अन्य भागों पर होने वाले ग्रहण को आपके अपने शहर में
आनलाईन तो देखा ही जा सकता है। आगामी शनिवार 4 दिसम्बर को पृथ्वी के
अंटाकर्टिका क्षेत्र में पूणर्सूयर्ग्रहण तथा दक्षिण अफ्रीका और नामीबिया में
आंशिककसूयर्ग्रहण की घटना दिखने जा रही है।

ग्रहण की वैज्ञानिक जानकारी देते हुये नेशनल अवॉर्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका
घारू ने बताया कि अगर आप आनलाईन ग्रहण देखना चाहते हैं तो यह ग्रहण
भारतीय समय के अनुसार दिन में 10 बजकर 59 मिनिट से आरंभ होकर दोपहर बाद
लगभग 3 बजकर 7 मिनिट पर समाप्त होगा। दोपहर 1 बजकर 3 मिनिट 26 सेकंड पर अधिकतम
ग्रहण रहेगा।

सारिका ने बताया कि जब चंद्रमा , पृथ्वी और सूयर् के बीच से गुजरता है तो पृथ्वी के
कुछ भाग से सूर्य का दिखना बंद या कम हो जाता है इसे सूयर्ग्रहण कहते हैं।
सूर्य चंद्रमा से चार सौ गुना बड़ा है और चंद्रमा से 400 गुना अधिक दूर भी
है इसलिये ऐसा लगता है कि सूर्य और चंद्रमा दोनो की डिस्क आकार में समान
है जिससे पूणर्ग्रहण होता है।

सारिका ने जानकारी दी कि सूयर्ग्रहण चार प्रकार के होते हैं। पूणर्सूयर्ग्रहण
वलयाकार सूयर्ग्रहण ; आंशिक सूयर्ग्रहण ,एवं हाईब्रिड सूयर्ग्रहण ; । हाईब्रिड सूयर्ग्रहण में कुछ स्थानो पर वह पूर्ण तो कुछ
स्थानों पर वलयाकार ग्रहण के मिलेजुले रूप में दिखता है।

सारिका ने बताया कि सोशलमीडिया के इस दौर में पृथ्वी के अन्य भागों पर
दिखने जा रहे ग्रहण के प्रभावों को बढ़-चढ़ कर कई दिनों पहले से
आरंभ कर दिया जाता है। इन तथ्यों के प्रति आमलोगों में वैज्ञानिक
जागरूकता की आवश्यकता है।

अगर आप भारत में आपके अपने शहर में आंशिक सूयर्ग्रहण को प्रत्यक्ष देखना
चाहते हैं तो 25 अक्टूबर 2022 का इंतजार करना होगा।

About सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS

View all posts by सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS →

Leave a Reply