कारोबारियों पर मंडराने लगा फिर कोरोना का संकट, छोटे कारोबारी ज्यादा प्रभावित होंगे, कोरोना के मामले में होरहा लगातार इजाफा

DG NEWS SEHORE

जिले में कोरोना का विस्फोट हो रहा है। कोरोना की रफ्तार कितनी तेज है, इसका अंदाजा तो इसी बात से लगाया जा सकता है। कि 24 घंटों में सौ कोरोना से प्रभावित मरीज सामने आ चुके है वहीं आज से स्कूल पखवाड़ा भर के लिए स्कूल बंद हैं। इन सबके बाद  भी लोग लापरवाही से बाज नहीं आ रहा है। दूसरी तरफ जैसे जैसे कोरोना का मामले बढ़ रहे हैं, इसका असर बाजार पर देखा जा रहा है।

संवाददाता सुरेश मालवीय 8871288482

सीहोर । जिले में कोरोना पॉजीटिवों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। बीते 24 घंटों में जिले में 100 कोरोना पाॅजीटिव सामने आए हैं। इसमें से जिला मुख्यालय पर 50 पॉजीटिव शामिल हैं। शहर सहित तहसील मुख्यालयों और ग्रामीण अंचलों तक कोरोना के फैलाव ने प्रशासन से लेकर आमजनों की चिंता बढ़ा दी है। जिले में अभी तक कुल 243 मरीज कोरोना पॉजीटिव सामने आ चुके हैं।  बीते तीन दिनों से लगातार कोरोना के मामलों में उछाल आ रहा है।


चलाया रोको-टोको अभियान

उत्कृष्ट विद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के छात्रों ने नगर में रोको-टोको अभियान चलाया। जिसके तहत छात्रों द्वारा नगर के तहसील चौराहा स्थित समस्त दुकानों एवं पथ विक्रेताओं को कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए मास्क लगाने, बार-बार साबुन से हाथ धोने एवं सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए प्रेरित किया गया। इसके साथ ही उन्होंने बिना मास्क के घूम रहे लोगो को मास्क वितरित करते हुए घर से निकलते समय आवश्यक रूप से मास्क लगाने का आग्रह किया। इस अभियान में अतुल वर्मा सहित अन्य छात्र उपस्थित थे। 
तो और बढ़ सकती मुश्किल जिले मे इस कोरोना की धमक अधिक देखी जा रही है। हालात यह है कि शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों तक में कोरोना के मामले सामने आये हैं। इससे लोगों की चिंता बढ़ गई हैं। स्कूल तो आज से लेकर पखवाड़े भर के लिए बंद कर दिये गए हैं।  दूसरी तरफ बाजारों में भी कोरोना को लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। वहीं कुछ सामाजिक संगठनों ने मास्क का वितरण कर लोगों को जागरूक किया है।
और डालेगा असर इस संबंध में  चाय की दुकान चलाने वाले दिनेश कुमार ने बताया कि कोरोना के कारण से बीते दो वर्षों से कारोबार प्रभावित हाेता रहा है, बीते कुछ महीनों से ही बाजार में चहल पहल ठीक ठाक दिखाई दे रही है। छोटे कारोबारियों के चेहरों पर इस बात का संतोष था कि अब बाजार में रौनक लौट आई है तो बीते दो सालों में जो नुकसान हुआ है, उसकी भी भरपाई तो संभव नहीं है, लेकिन अब ग्राहकी बढ़ने की खुशी थी, लेकिन जैसे ही जिले में एक बार फिर कोरोना के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है तो फिर से चिंता सताने लगी है।

About सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS

View all posts by सुरेश मालवीय इछावर DG NEWS →

Leave a Reply