हरसिद्धि प्रबंध समिति द्वारा कवि सम्मलेन

शहादतों के इतिहास पढ़ा करता हुॅ चराग बन कर अंधेरो से लड़ा करता हुॅ


तुम अपने बच्चों को पढ़ाओ या लगाओ पौधे मै क्रांतिकारी मशालो को जलाया करता हुॅ।-उमेश उत्साही ओजस्वी कवि
माॅ हरसिद्वि के मंच पर अखिल भारतीय कविसम्मेलन सम्पन्न।
उज्जैन:हरसिद्धि मंदिर प्रबंध समिति  एवं  श्री हरसिद्धि भक्त मंडल  के संयुक्त तत्वाधान में  नव दुर्गा नगर में 45 में  नवरात्रि महोत्सव के अंतर्गत मालवी कवि एवं गीतकार स्व.मोहन सोनी को समर्पित अखिल भारतीय कवि सम्मलेन मे बारिश के पानी ने जब राहत दी तब कवियो ने अपने काव्यपाठ की रचनाओ की बौछारों से माॅ हरसिद्वि के मंच पर श्रोताओ को  मंत्रमुग्ध कर दिया प्रारंभ मे आगुंतक कवियो द्वारा माॅ हरसिद्वि के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर अ.भा.कवि सम्मेलन का शुभारंभ किया मंडलप्रवक्ता कमलेश ताॅबी एवं प्रचार सचिव सत्यनारायण तोनगारिया ने बताया कि माॅ हरसिद्वि की अध्यक्षता मे प्रारंभ कविसम्मेलन मे सर्वप्रथम खाचरौद से पधारी डाॅ.श्रुति शारदाश्री ने सरस्वती वंदना एवं श्रृगांर रस के छंदो से सबका मन मोहा वही तराना से पधारे व्यग्यंकार विक्रम विवेक ने अपनी मालवी शैली मे श्रोताओ को खुब गुदगुदायां जयपुर राजस्थान से पधारे ओज कवि उमेश उत्साही ने अपनी ओजस्वी प्रस्तुतियो से देशप्रेम से ओतप्रेात किया वही नजर ईलाहाबादी हास्य व्यग्य कवि ईलाहाबाद, नरेन्द्रमिश्र धड़कन श्रृंगारिका गीतकार छत्तीसगढ,यक्ष धुरंधर ओजस्वी कवि भोपाल ने अपनी रचनाओ से कवि सम्मेलन मे समा बाॅधा। कवि सम्मेलन के सुत्रधार  ओजस्वी कवि एवं गीतकार सतीश सागर थे इस अवसर पर कलानिधी चंचल सम्मान वरिष्ठ गीतकार नृसिंह ईनानी को प्रदान किया गया  कवियो का स्वागत मंडल के संरक्षक  शिव नारायण चैबे  राजेंद्र जोशी  ज्ञानेश्वर दुबे अध्यक्ष जगदीश शर्मा, उपाध्यक्ष संतोष राव जाधव, सचिव विनोद जोशी मनोज चैधरी कोषाध्यक्ष पवन नागर प्रवक्ता कमलेश तांबी प्रचार सचिव सत्यनारायण टोनगरिया  प्रमेंद्र यादव सीताराम मीणा वीरेंद्र शर्मा आदि ने किया अ.भा. कवि सम्मेलन का संचालन राजेन्द्र जोशी ने किया स्वागत भाषण रमेश दुबे द्वारा दिया गया आभार अवधेश माथुर ने माना।

Leave a Reply

%d bloggers like this: