वरिष्ठ सार्वजनिक हस्तियों, फिल्म हस्तियों, छात्रों और जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों के शामिल होने से जारी अखिल भारतीय तटीय सफाई अभियान को जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली; केन्‍द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्‍द्र सिंह

डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने जारी तटीय सफाई अभियान को और बढ़ावा देने के लिए एक समर्पित वेबसाइट http://www.swachhsagar.org/ का अनावरण किया
डॉ. सिंह ने अभियान लोगो-वासुकी भी लॉन्च किया, जो अभियान में गहरी दिलचस्पी लेने वाले देश के युवाओं को समर्पित है
तटीय सफाई अभियान की रूपरेखा संपूर्ण सरकार के दृष्टिकोण के मॉडल पर तैयार की गई है और कई मंत्रालय और विभाग इसमें सक्रिय रूप से भाग ले रहे हैं: डॉ. जितेन्‍द्र सिंह

वरिष्ठ सार्वजनिक हस्तियों, फिल्म हस्तियों, छात्रों और जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों ने अखिल भारतीय तटीय सफाई अभियान में हिस्‍सा लिया है जिसके परिणामस्‍वरूप 17 सितम्‍बर को समाप्‍त होने वाली 75 दिनों की इस प्रयोग को जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है।

यह जानकारी केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार); प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्‍य मंत्री, डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने दी। इतने बड़े स्‍तर पर इस विशाल प्रतिक्रिया से प्रोत्साहित डॉ. सिंह ने आज सफाई मिशन को और बढ़ावा देने के लिए एक समर्पित वेबसाइट www.swachhsagar.org लॉन्च की।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001P06S.jpg?w=810&ssl=1

 

डॉ. सिंह ने देश के युवाओं को समर्पित अभियान लोगो-वासुकी भी लॉन्च किया, क्योंकि वे स्कूली छात्रों के साथ हैं और तटीय और समुद्र तट की सफाई गतिविधियों में शामिल हो रहे हैं।

 

अपनी तरह के अब तक के अब तक के इस सबसे लंबे अभियान की प्रगति के बारे में मीडिया को जानकारी देते हुए डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने कहा कि यह अभियान ‘‘संपूर्ण सरकार’’ दृष्टिकोण के मॉडल पर तैयार किया गया है, जिसे अक्सर प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा दोहराया जाता है। उन्‍होंने कहा कि इसे क्रियान्वित करने वाले पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अतिरिक्‍त, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, जल शक्ति, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी, विदेश और सूचना और प्रसारण मंत्रालय इस अभियान में सक्रिय रूप से भाग ले रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कई मंत्रियों और सांसदों ने विश्‍व में अपनी तरह के पहले और सबसे लंबे समय तक चलने वाले तटीय सफाई अभियान को पूरा समर्थन देने का वादा किया है।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002C3PZ.jpg?w=810&ssl=1

 

डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने बताया कि कल ही केन्‍द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव ने पुदुचेरी के उपराज्यपाल डॉ. तमिलसाई सुंदरराजन और पुदुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगास्वामी के साथ समुद्र तट की सफाई और जागरूकता अभियान का नेतृत्व किया था। प्रोमेनेड तट पर अभियान को स्कूली बच्चों और समुद्र तट उपयोगकर्ताओं द्वारा अंग्रेजी और तमिल में ‘‘आई एम सेविंग माई बीच’’ पर शपथ लेने के द्वारा चिन्हित किया गया था। इसके बाद इस अवसर पर आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता के लिए पुरस्कार वितरण किया गया। गणमान्य व्यक्तियों ने 100 स्कूली छात्रों, साइकिल चालकों द्वारा वॉकथॉन और ‘‘कनेक्टिंग विद द ओशन’’ पर एक बेड़े को झंडी दिखाकर रवाना किया।

 

डॉ. सिंह ने यह भी जानकारी दी कि 5 जुलाई, 2022 को शुरू किए गए 75-दिवसीय तटीय सफाई अभियान के पहले 20 दिनों के दौरान 200 टन से अधिक कचरा, मुख्य रूप से एकल उपयोग प्लास्टिक, समुद्र तटों से हटा दिया गया है।

 

डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने संतोषपूर्वक यह बताया कि अब तक 24 राज्यों के 52000 से अधिक स्वयंसेवकों ने ‘‘स्वच्छ सागर, सुरक्षित सागर’’ के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए 5 जुलाई, 2022 को शुरू किए गए 75-दिवसीय अभियान के लिए पंजीकरण कराया है, जिसका समापन 17 सितम्‍बर 2022 को ‘‘अंतर्राष्ट्रीय तटीय सफाई दिवस’’ पर होगा।

 

डॉ. सिंह ने पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधिकारियों को गैर-सरकारी संगठनों, नागरिक समूहों, बच्चों और युवा मंचों, कंपनियों, गैर-लाभकारी संगठनों, कांसुलर स्टाफ के साथ-साथ तटीय राज्यों के नगर निगमों को इसे जन आंदोलन में बदलने का निर्देश दिया।

 

डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने दोहराया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने स्वच्छता अभियान में अग्रणी भूमिका निभाई है और पूरे देश को भारत की 7500 किलोमीटर लंबी तटीय रेखा को मानव जाति के लिए स्वच्छ, सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए प्रेरित किया है।

 

डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने 17 सितम्‍बर 2022 को ‘‘अंतर्राष्ट्रीय तटीय सफाई दिवस’’ ​​​​पर समुद्र तटों से 1,500 टन कचरा, मुख्य रूप से एकल उपयोग प्लास्टिक को हटाने के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए नागरिक समाज के सदस्यों के सक्रिय सहयोग की मांग की, जो संयोग से प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी का जन्मदिन भी है, देश में ‘‘सेवा दिवस’’ ​​​​के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने समुद्र तट के प्रत्येक किलोमीटर के लिए 75 स्वयंसेवकों के साथ 17 सितम्‍बर को देश भर के 75 समुद्र तटों पर बड़े पैमाने पर सफाई अभियान में शामिल होने की अपील की। उन्होंने यह भी कहा कि इस वर्ष का आयोजन देश की आजादी के 75वें वर्ष में आजादी का अमृत महोत्सव के उत्सव के अनुरूप है।

Leave a Reply