भारत निर्वाचन आयोग ‘महिलाओं, दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं की चुनावी भागीदारी बढ़ाना : सर्वोत्तम प्रथाओं और नई पहलों को साझा करना’ विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार की मेजबानी करेगा

एसोसिएशन ऑफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज (ए-डब्ल्यूईबी) पूरी दुनिया में चुनाव प्रबंधन निकायों (ईएमबी) का सबसे बड़ा संघ है। इसके 117 ईएमबी सदस्य और 16 क्षेत्रीय संघ/संगठन सहयोगी सदस्य हैं। भारत निर्वाचन आयोग 3 सितंबर,  2019 से तीन साल की अवधि के लिए ए-डब्ल्यूईबी का अध्यक्ष बना है। ए-डब्ल्यूईबी की अध्यक्षता के दो साल पूरे होने के उपलक्ष्य में भारत निर्वाचन आयोग 26 नवंबर, 2021 को ‘महिलाओं, दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं की चुनावी भागीदारी बढ़ाना : सर्वोत्तम प्रथाओं और नई पहलों को साझा करना’ विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार आयोजित कर रहा है।

 

24 देशों- बांग्लादेश, भूटान, कंबोडिया, इथोपिया, फिजी, जॉर्जिया, कज़ाकिस्तान, कोरिया गणराज्य, लाइबेरिया, मलावी, मॉरीशस, मंगोलिया, फिलीपींस, रोमानिया, रूस, साओ टोम और प्रिंसिपे, सोलोमन द्वीप समूह, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, सूरीनाम, ताइवान, उज्बेकिस्तान, यमन और जाम्बिया तथा 4 अंतर्राष्ट्रीय संगठनों- इंटरनेशनल आईडीइए, इंटरनेशनल फाउंडेशन ऑफ इलेक्टोरल सिस्टम (आईएफईएस), एसोसिएशन ऑफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज (ए-डब्ल्यूईबी) और यूरोपियन सेंटर फॉर इलेक्शन के लगभग 100 प्रतिनिधि इस वेबिनार में भाग ले रहे हैं। उज्बेकिस्तान के राजदूत और फिजी, मालदीव, मॉरीशस के उच्चायुक्तों सहित लगभग 20 राजनयिकों का भी इस वेबिनार में भाग लेने का कार्यक्रम है।

 

वेबिनार में, भाग लेने वाले ईएमबी और संगठनों द्वारा महिलाओं, दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं की चुनावी भागीदारी बढ़ाने के लिए उनके द्वारा अपनाई गई सर्वोत्तम प्रथाओं और पहलों पर प्रेजन्टेशन दिए जाएंगे। पहले सत्र की सह-अध्यक्षता भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त श्री सुशील चंद्र और मॉरीशस के चुनाव आयुक्त श्री मोहम्मद इरफ़ान अब्दुल रहमान तथा बांग्लादेश के मुख्य चुनाव आयुक्त श्री केएम नूरुल हुडा के साथ करेंगे।

 

दूसरे सत्र की सह-अध्यक्षता चुनाव आयुक्त श्री राजीव कुमार, भूटान निर्वाचन आयोग के आयुक्त श्री दाशो उग्येन चेवांग के साथ करेंगे।

 

तीसरे सत्र की सह-अध्यक्षता चुनाव आयुक्त श्री अनूप चंद्र पांडे और श्रीलंका के निर्वाचन आयोग के सदस्य श्री एम.एम. मोहम्मद करेंगे। समापन सत्र में चुनावी लोकतंत्र पर कैंब्रिज सम्मेलन के सलाहकार श्री पीटर वार्डले, श्री पीटर एर्बेन प्रधान सलाहकार आईएफईएस, डॉ. नोम्सा मसुकु आय़ुक्त, चुनाव आयोग दक्षिण अफ्रीका (दक्षिण अफ्रीका के निर्वाचन आयोग के अध्यक्ष और ए-डब्ल्यूईबी के उपाध्यक्ष की ओर से) संबोधित करेंगे।

 

इस वेबिनार में तीन प्रकाशन- ए-डब्ल्यूईबी इंडिया जर्नल ऑफ इलेक्शन का अक्टूबर 2021 अंक; ‘वॉयस इंटरनेशनल’ मैगजीन का अक्टूबर 2021 एवं ‘पार्टीपेशन ऑफ वूमेन, पर्सन्स विद डिस एबिलिटीज़ एंड सीनियर सिटीजन वोटर्स इन इलेक्शन्स पर प्रकाशन भी जारी किए जाएंगे। इसके अलावा वेबिनार में महिलाओं, दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिकों की चुनाव में सुविधा और भागीदारी के बारे में एक अंतर्राष्ट्रीय वीडियो प्रस्तुति का भी अनावरण किया जाएगा।

 

2 सितंबर, 2019 को बेंगलुरु में आयोजित ए-डब्ल्यूईबी कार्यकारी बोर्ड की बैठक में लिए गए निर्णय के बाद भारत में ए-डब्ल्यूईबी केंद्र की स्थापना की गई। भारतीय निर्वाचन ने श्रेष्ठ प्रथाओं और ए-डब्ल्यूईबी सदस्य देशों के अधिकारियों के क्षमता निर्माण के लिए विश्वस्तरीय प्रलेखन, अनुसंधान और प्रशिक्षण के लिए इस केंद्र को सभी संसाधन उपलब्ध कराए हैं। यह अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार सभी प्रतिभागियों को विचारों का आदान-प्रदान करने और महिलाओं, दिव्यांगजनों एवं वरिष्ठ व्यक्तियों (पीडब्ल्यूडी)नागरिकों की चुनावी भागीदारी बढ़ाने के लिए की गई सर्वोत्तम प्रथाओं और पहलों के बारे में एक-दूसरे के अनुभव से सीखने का एक अच्छा अवसर भी प्रदान करेगा।

Leave a Reply