आर्टिफिशियल गैलरी के नाम पर ठगी करने वाले आरोपी बनारस से पकड़ाए, मोती की माला देकर सीधा करते थे उल्लू

सतना पुलिस की कार्रवाई: एसपी रियाज इकबाल ने लाखों की ठगी करने वाले आरोपियों से बारी-बारी पूछताछ की

आर्टिफिशियल गैलरी के नाम पर ठगी करने वाले आरोपी बनारस से पकड़ाए, मोती की माला देकर सीधा करते थे उल्लू

सतना/ आर्टिफिशियल गैलरी के नाम से मोती की माला बनाने के कारोबार में सैकड़ों लोगों की बड़ी रकम लेकर फर्जीवाड़ा करने वाले पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं। खबर है कि इस मामले का मुख्य आरोपी अपने एक साथी के साथ बनारस से पकड़ा गया है। पुलिस टीम जब दोनों को सतना लेकर आई तो यहां एसपी रियाज इकबाल समेत कई पुलिस अधिकारियों ने लाखों की ठगी के इन आरोपियों से बारी-बारी पूछताछ करते हुए हकीकत जानने की कोशिश की है। उम्मीद है कि जल्द ही पुलिस इस बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा करते हुए आरोपियों के चेहरे उजागर कर देगी।

ये है मामला
गौरतलब है कि सिविल लाइन थाना पुलिस ने आइपीसी की धारा 420, 34 के तहत आर्टिफिशियल गैलरी से जुड़े राजेश तिवारी, राहुल जायसवाल, आदित्य समेत अन्य के खिलाफ अपराध कायम किया था। सामने आए फरियादिया ने बताया था कि सिविल लाइन थाना क्षेत्र की मंदाकिनी विहार कॉलोनी गढिय़ा टोला में दलजीत सिंह के मकान एमआइजी 25 में आर्टिफिशियल गैलरी नाम की कंपनी का ऑफिस था। जब दफ्तर में ताला लगा मिला और यहां कारोबार करने वाले भी अपने घरों में नहीं मिले तो लोगों को संदेह हुआ कि कंपनी सबका पैसा लेकर भाग गई है और तब मामला थाने पहुंचा।

एक साथ हुए गायब
यह कंपनी लोगों से पैसा लेती थी और उसके बदले उन्हें माला बनाने के लिए मोती देती थी। इस फार्मूले पर काम करते हुए सबसे पहले कंपनी ने आम आवाम के बीच अपना विश्वास जमाया। जब कंपनी से लोग जुडऩे लगे तब कंपनी ने एक दूसरे को जोडऩे वाला फंडा इस्तेमाल किया। नेटवर्क मार्केटिंग की तर्ज पर कंपनी ने अपने ग्राहकों और निवेशकों की लंबी चैन तैयार कर ली। इसके बाद आर्टिफिशियल गैलरी में काम करने वाले एक साथ गायब हो गए।mp fraud petrol pump fraud Satna satna news in hindi satna police

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply