छात्रावास के सभी 50 बच्चे खुजली के शिकार, इलाज नहीं मिला ताे 15 गए घर

यह है यहां का अनुसूचित जाति बालक छात्रावास…। यहां कदम रखते अाैर छात्राें काे अपना परिचय देने के बाद से शुरू हाे…

Amla News - mp news all 50 children of the hostel suffered from itching no treatment found 15 went home

Jan 22, 2020, यह है यहां का अनुसूचित जाति बालक छात्रावास…। यहां कदम रखते अाैर छात्राें काे अपना परिचय देने के बाद से शुरू हाे जाती है, समस्या अाैर शिकायताें की बाैछार। ये बच्चे अपनी समस्याएं बयां करने काे आतुर थे, लेकिन उनकी सुनने वाला काेर्इ नहीं था। यहां के हर बच्चे काे एक कामन समस्या थी वह थी खुजली की..। यहां के 50 बच्चे सब की सब खुजली से पीड़ित थे। इनमें कुछ ने प्राइवेट डॉक्टर काे बताकर इलाज कराया, लेकिन दोबारा खुजली से ग्रसित हाेने पर वे घर चले गए। इनकी संख्या करीब 15 है। जबकि दूसरे छात्र खुजली के अब तक शिकार हैं। वे छात्रावास अधीक्षक के अस्पताल ले जाने का इंतजार कर रहे हैं। वहीं छात्रावास अधीक्षक तर्क दे रहे हैं कि यहां की पानी की टंकी में गंदगी हाेने के कारण के इंफेक्शन हाेने से खुजली बीमारी हाे रही है।

वैसे छात्रावास में माह में एक बार स्वास्थ्य जांच के नियम है, लेकिन इन बच्चों काे देखकर ताे यह नियम केवल कागजी नजर अाता है। पिछले एक महीने से छात्र खुजली बीमारी से परेशान हैं। पूछने पर छात्राें ने तपका से कहा, काेई डॉक्टर नहीं अाया अाैर न ही उन्हें काेई अस्पताल तक ले गया। छात्रावास में अव्यवस्था की स्थिति बच्चों के चेहरे पर खुजली फुंसियां दिखा रही थी। हर बच्चे के हाथ, पैर अाैर चेहरे पर फुंसियां थीं। इस खुजलाहट से वे पढ़ाई नहीं कर पा रहे।

,

Leave a Reply