जहरीली शराब (झिंझर) कांड :12:30 बजे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का ट्वीटशाम तक 4-5 पुलिसकर्मियों पर भी गिरेगी गाज, डॉक्टर मेडिकल संचालक और 1 व्यापारी को भी हिरासत में लियाउज्जैन। जहरीली शराब कांड में एसपी मनोज सिंह और सीएसपी रजनीश कश्यप का तबादला हो गया है। सीएम शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट कर एसपी का तबादला करने के निर्देश दिए हैं। सोशल मीडिया पर सीएम का ट्वीट वायरल हो गया। इधर झिंझर बेचने वाले सरगनाओं और दो पुलिसकर्मी अब पुलिस गिरफ्त में हैं, एसआईटी अपनी जांच पूरी कर चुकी है। मामले में सौदागरों की धरपकड़ जारी है। बीती रात दोनों अधिकारियों ने सरगना सिकंदर से थाने में पूछताछ शुरू की जो सुबह 4 बजे तक चली।

बनाने तक उससे जुड़े सभी लोगों के नाम उजागर कर दिये साथ ही महाकाल, खाराकुआं, कोतवाली और जीवाजीगंज के पुलिसकर्मियों जिन्हें वह बंदी देता था उनके नाम भी लिये। एसपी द्वारा सायबर टीम को सिकंदर व गब्बर से जुड़े पुलिसकर्मियों के रिकार्ड निकालने के आदेश दिये हैं और शाम तक 5 पुलिसकर्मियों पर सस्पेंड की गाज गिरने की संभावना है, जबकि पुलिस ने एक डॉक्टर, एक मेडिकल संचालक व व्यापारी को भी गिरफ्तार किया है।

एसपी सिंह ने चर्चा में बताया कि सिकंदर ने इंदौर रोड़ स्थित वाहन शोरूम के पास एक व्यक्ति से स्प्रीट खरीदने की बात कबूली तो उसे हिरासत में लिया गया। इस व्यक्ति ने उद्योगपुरी में इम्पीरीयल के नाम से स्प्रीट का कारोबार करने वाले व्यापारी का नाम बताया उसे भी गिरफ्तार किया जा चुका है। इसके अलावा सिकंदर ने हेलावाड़ी के डॉ. जुनैद और गोल्डन मेडिकल स्टोर संचालक इरशाद को भी गिरफ्तार किया गया है।

सुबोध जैन की संपत्ति की जांच होगी, प्रकरण दर्ज करने के बाद मकान हो सकता है ध्वस्त

एसपी सिंह ने बताया कि नगर निगम के सहायक आयुक्त सुबोध जैन के जहरीली शराब झिंझर बनाने वाले सरगना सिकंदर से कनेक्शन सामने आये हैं। सुबोध जैन को फिलहाल नगर निगम से निलंबित कर दिया गया है और आयुक्त द्वारा उसके कार्यकाल की समीक्षा की जारही है। सहायक आयुक्त रहते सुबोध जैन ने लाखों की प्रापर्टी अवैध तरीके से अर्जित की है। नगर निगम आयुक्त की जांच रिपोर्ट आने के बाद जैन के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने अथवा उसके मकान को ध्वस्त करने की कार्रवाई की जा सकती है।

जहरीली शराब के कारोबार से जुड़े आरोपियों को हिरासत में लिया जा चुका है, आरोपी शंकर की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं जबकि पप्पी लंगड़ा फरार है। मामले में पुलिसकर्मियों की संलिप्तता सामने आई जिसकी पुष्टि की जा रही है। अलग-अलग थानों के 4-5 पुलिसकर्मियों सहित एक एसआई स्तर के अधिकारी पर कार्रवाई होगी।
-राकेश गुप्ता, आईजी

Leave a Reply