जिले पर हो औधोगिक का विस्तार

छिंदवाडा जिला आज के वर्तमान पर संसाधनों से परिपूर्ण हो गया है । सडक का विस्तार, हाइवे का चौडीकरण, रेल मार्ग होने से धीरे धीरे महानगरों पर आने लगा है ।

आदिवासी जनजाति और विकास के कारण एक ही मूल समस्या है जिले पर रोजगार के उपयुक्त प्रबन्ध किया जाये जिससे जिले और आसपास के पड़ोसी जिले के युवा को रोजगार मिले जाने से उनको बहार न जीना पड़ेगा । महाराष्ट्र सीमा से लगा छिंदवाडा पर

बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी अपनी औधोगिक ईकाई की स्थापना लगाकर कम पूंजी पर मुनाफा कमा सकती हैं ।

जिले के प्रशासन और जन प्रतिनिधि को रोज़गार संसाधनों के लिये अथक प्रयास करने चाहिए जिससे अधिक से अधिक युवाओ को काम, नौकरी मिले सके ।

About रंजीत डेहरिया छिंदवाडा

नागरिक पत्रकार,जनहित सेवा
View all posts by रंजीत डेहरिया छिंदवाडा →

Leave a Reply