टीम महारानी का के प्रोडक्शन का हिस्सा है शहर के श्रीजीत ठाकुर

होशंगाबाद से दिव्या मेहरा की ख़बर। जॉली एलएलबी,जॉली एलएलबी2,मेडम चीफ मिनिस्टर जैसी सफल फिल्मों के निर्देशक सुभाष कपूर और प्रोड्यूसर नरेन कुमार का बतौर वेवसीरिज सोनी लिव पर महारानी पहला प्रोजेक्ट है। कांगरा टाकीज के बैनर तले बनी इस वेवसीरिज में होशंगाबाद के युवा श्रीजीत सिंह ठाकुर प्रोडक्शन असिस्टेंड और प्रोडक्शन क्वाडीनेटर के तौर पर निर्माण टीम का हिस्सा है। सोनी लिव पर गुरुवार रात को वेवसीरिज महारानी रिलीज हुई। हुमा कुरैशी,अमित श्याल, शुभम शाह अभिनीत महारानी कोरोनाकाल में रिलीज एक बड़ी वेवसीरीज है। महारानी एक ऐसी कहानी जिसमें पूरा मनोरंजक पोलिटिकल ड्रामा है। श्रीजीत ठाकुर गत पांच वर्ष से मुम्बई में फ़िल्म व टेली सीरियल प्रोडक्शन से जुड़े है ।इस बार उन्हें बड़े बेनर के साथ काम करने का अवसर मिला। श्रीजीत का कहना है कि टीम महारानी में एक माह की शूटिंग के दौरान बहुत कुछ सीखने को मिला सबसे बड़ी बात सुभाष कपूर ,नरेन कुमार की टीम में काम करते हुए सबसे बड़ी बात ये सीखने को मिली कि काम को पेशन की तरह करते है तो सफलता जरूर मिलती है। सुभाष कपूर को अभिनय टीम के टेलेंट का सौ परसेंट निकालने में महारथ है तभी उनकी फिल्में लोगों को पसंद आती है इसी तरह नरेन जी का प्रोडक्शन टीम के साथ काम करने की अपना एक तरीका है बल्कि इसे कला ही कहेंगे कि वो भी अपने छोटे से छोटे टीम मेम्बर की परवाह करते है। इस शो के दौरान समझा और सीनियर अंकित जैन, शशि ठाकुर से सीखा की टीम वर्क कैसे किया जाता है, काम को इंजॉय कैसे किया जाता है। मध्यप्रदेश में फ़िल्म टूरिज्म को लेकर श्रीजीत का कहना था कि मध्यप्रदेश में बहुत अच्छी अच्छी नेचुरल लोकेशन है जिनमें से कई तो अभी तक स्क्रीन पर भी नही आई है और फ़िल्म निर्माताओं को भी मध्यप्रदेश में शूटिंग करना अच्छा लगने लगा है। साथ ही टूरिज्म विभाग और मध्यप्रदेश सरकार की नई फिल्म नीति के कारण संभावनायें और बढ़ गई है।निश्चित ही आने वाले समय में मध्यप्रदेश में फ़िल्म टूरिज्म और बढ़ेगा। नर्मदांचल को लेकर श्रीजीत का कहना है कि गत वर्ष लॉकडाउन के पूर्व एक बड़ी फिल्म की लगभग पूरी शूटिंग होशंगाबाद और आसपास होनी थी पर कोविड की वजह से वो प्रोजेक्ट पोस्टपोन हो गया। इस वर्ष भी कोविड के पहले एक वेवसीरिज के लिए कुछ लोकेशन लॉक हुई थी पर फिलहाल वो प्रोजेक्ट भी कोविड के कारण रुक गया है। जल्द ही एक दो अन्य प्रोजेक्ट के लिए कुछ लोकेशन की रेकी पर कुछ बड़े निर्माता आ सकते है। जैसे ही कोविड का ये दौर खत्म होगा नर्मदांचल सहित सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में फ़िल्म टूरिज्म में तेजी से बूम आएगा।

Leave a Reply