डॉ. मनसुख मांडविया ने नई दिल्लीडॉ. मनसुख मांडविया ने नई दिल्ली स्थित पुराना किला में स्वास्थ्य विरासत पदयात्रा में हिस्सा लियास्थित पुराना किला में स्वास्थ्य विरासत पदयात्रा में हिस्सा लिया

केंद्रीय स्वास्थ्य और रसायन एवं उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने आज नई दिल्ली स्थित पुराना किला में स्वास्थ्य विरासत पदयात्रा में हिस्सा लिया। इसका उद्देश्य पैदल चलने से होने वाले स्वास्थ्य संबंधी लाभों और जन औषधि जेनेरिक दवाओं के बारे में जागरूकता पैदा करना था।

 

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00111RD.jpg?w=810&ssl=1

पूरे हफ्ते चलने वाले जन औषधि दिवस के चौथे दिन 9 शहरों में 10 स्थानों पर स्वास्थ्य विरासत पदयात्रा का आयोजन किया गया, जिससे पैदल चलकर, कुछ शारीरिक गतिविधि करके और जन औषधि केंद्रों पर उपलब्ध गुणवत्ता व सस्ती जेनेरिक दवाओं के संदेश का प्रसार करके लोगों के कल्याण का संदेश दिया जा सके।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002IKHW.jpg?w=810&ssl=1

फार्मास्युटिकल्स एंड मेडिकल डिवाइसेस ब्यूरो ऑफ इंडिया (पीएमबीआई) ने 1 मार्च, 2022 से पूरे हफ्ते विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करके जन औषधि दिवस के सप्ताह भर चलने वाले समारोह की शुरुआत की है। पीएमबीआई पहले ही पूरे देश में 1 मार्च, 2 मार्च और 3 मार्च, 2022 को क्रमशः जन औषधि संकल्प यात्रा, मातृ शक्ति सम्मान और जन औषधि बाल मित्र का आयोजन कर चुका है।

इस साल का यह कार्यक्रम भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित किया जा रहा है। यह भारत सरकार की एक पहल है, जो प्रगतिशील भारत के 75 साल और उसके लोगों के गौरवशाली इतिहास, संस्कृति और उपलब्धियों का उत्सव मनाने के लिए है।

Leave a Reply