मप्र / सरकार के खिलाफ हल्लाबोल प्रदर्शन में शिवराज ने कहा- कमलनाथ बताएं प्रदेश में कितने माफिया हैं और कितनों पर कार्रवाई हुई

भोपाल कलेक्टोरेट में भाजपा के हल्लाबोल आंदोलन में पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

भोपाल कलेक्टोरेट में भाजपा के हल्लाबोल आंदोलन में पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

शिवराज ने कहा-अगर सिर्फ भाजपा के कार्यकर्ताओं को टारगेटकरके कार्रवाई की गई तो हम चुप नहीं बैठेंगेभाजपा ने हल्लाबोल प्रदर्शन मेंभोपाल समेत जबलपुर, ग्वालियर और अन्य जिलों में कलेक्टोरेट का घेराव किया

भोपाल. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा किकमलनाथ जी, माफिया औरअतिक्रमण के नाम पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर टारगेट करकेकार्रवाई की जा रही है। क्या कमलनाथ जी बताएंगे प्रदेश में कितने माफिया हैं?उनकी जानकारी सार्वजनिक करें और उन पर कार्रवाई करें।हम भी माफिया को खत्म करने में उनका सहयोग करेंगे, लेकिन चिन्हित करकेभाजपा कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई हुई तो फिर हम हर अन्याय केखिलाफ लड़ेंगे।

ये भी पढ़े

शिवराज सिंह का कमलनाथ सरकार को चैलेंज, कहा- अन्याय की अति हो गई है, अब मेरी लाश पर से गुजरकर जाना होगा

चौहान शुक्रवार को प्रदेश सरकार की तानाशाही, माफिया एवं अतिक्रमण के नाम पर गरीबों को परेशान करने और कलेक्टर व एसडीएम द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं पर हाथ उठाने के विरोध में भाजपा की हल्लाबोल आंदोलन में भाग लेने कलेक्टोरेट पहुंचे थे। उन्होंने भाजपाकार्यकर्ताओं के साथ कलेक्टोरेट पर धरना भी दिया।

चौथी बार भी सीएम बन सकता था, लेकिन नहीं बना

शिवराज सिंह ने कहा कि कमलनाथ जी ने प्रधानमंत्री आवास योजना का नाम बदलकर मुख्यमंत्री आवास मिशन कर दिया और फोटो अपनी लगा दी। पैसा केंद्र सरकार का और फोटो उनकी, फिर भी गरीबों को मकान नहीं मिल पा रहे हैं। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस से ज्यादा हमे वोट मिले थे।तीन बार मैं मुख्यमंत्री रहा, मगर चौथी बार मुख्यमंत्री बनते रह गया। इस बार भी सीएम बन सकता था, लेकिन सोचा की एक बार कांग्रेस को मौक़ा दे दो।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेशभर में विरोध प्रदर्शन किया
भाजपा ने शुक्रवार को राज्य की कांग्रेस सरकार की माफियाओं के खिलाफ मुहिम की आड़ में आम लोगों और भाजपा कार्यकर्ताओं को परेशान करने का आरोप लगाते हुए राज्य के अलग-अलग जिला मुख्यालयों में हल्लाबोल प्रदर्शन किया। राजधानी भोपाल में कलेक्ट्रेट के पास भाजपा कार्यकर्ता दोपहर बाद एकत्रित हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की अगुवाई में कलेक्टोरेट पहुंचे। जिन्हें यहां तैनात पुलिस बलों ने रोक दिया, लेकिन कार्यकर्ता रुके नहीं और आगे बढ़ते रहे।

ग्वालियर में भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार व प्रदेश सरकार की दमनकारी नीतियों के विरुद्ध में सांसद विजय शेजवलकर, जिला अध्यक्ष देवेश शर्मा के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पर वरिष्ठ नेताओं, जिला पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। इसके अलावा जबलपुर में सागर, छतरपुर, टीकमगढ़, दमोह, बैतूल, रतलाम, मंदसौर, धार और अन्य जिला मुख्यालयों से भी भाजपा के प्रदर्शन और उनके नेताओं तथा कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की खबरें यहां पहुंची हैं।

माफिया की पक्षधर है भाजपा

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा किभाजपा ने आज माफिया के खिलाफ कार्रवाईके विरोध में प्रदेश भर में प्रदर्शन कर बता दिया कि भाजपा जनता की नहीं, माफियाओं की सच्ची पक्षधर, भाजपा का घिनौना चेहरा सामने आया। कांग्रेस की भाजपा को खुली चुनौती अभी तक माफिया मुक्त अभियान में ऐसा एक भी नाम वह बताएं जिसके ऊपर कार्रवाईको वह गलत मानते हो, उसे माफिया नहीं मानते हो और यदि कोई सूची भाजपा के पास माफियाओं की हो तो उसे सार्वजनिक करें।

पूर्व सीएम चौहान और अन्य नेताओं ने कलेक्टोरेट पर धरना भी दिया।

पूर्व सीएम चौहान और अन्य नेताओं ने कलेक्टोरेट पर धरना भी दिया।

हल्लाबोल आंदोलन में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे थे।

हल्लाबोल आंदोलन में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे थे।

ग्वालियर में सांसद विवेक शेजवलकर और कार्यकर्ताओं ने कलेक्टोरेट का घेराव किया।

ग्वालियर में सांसद विवेक शेजवलकर और कार्यकर्ताओं ने कलेक्टोरेट का घेराव किया।

,

Leave a Reply