महाराष्ट्र चुनाव / मोदी ने कहा- कश्मीर हमारा मस्तक, हिम्मत है तो विपक्षी दल अनुच्छेद 370 को वापस लाने का वादा करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का महाराष्ट्र के जलगांव से प्रचार अभियान शुरू, दूसरी रैली भंडारा में कीमोदी ने कहा- अनुच्छेद 370 हटाने सरकार का फैसला अटल, कई विपक्षी दलों को यह मंजूर नहीं’नापाक पड़ोसी कश्मीर में अशांति फैलाने की कोशिश में, वहां 4 महीने में सब सामान्य होगा’महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी चार दिन में 9 रैलियां करेंगे

मुंबई.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को महाराष्ट्र केजलगांव से विधानसभा चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की। उन्होंने अनुच्छेद 370 हटाने और तीन तलाक खत्म करने के विरोध पर विपक्ष को आड़े हाथों लिया। रैली में मोदी ने कहा कि कश्मीर हमारा मस्तक है, नापाक पड़ोसी वहां अशांति फैलाने की कोशिश में जुटा है। अनुच्छेद 370 पर अटल फैसला कुछ नेताओं को मंजूर नहीं है। उन्हें चुनौती देता हूं कि दम है तो अपने घोषणापत्र में लिखें- हम 370 को वापस लाएंगे। इसके बाद मोदी नेभंडारा में भी रैली की।प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री की राज्य में चार दिन में 9 रैलियां होंगी।

मोदी ने राकांपा प्रमुख शरद पवार का नाम लिए बगैर उनके एक वायरल वीडियो पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि एक बड़े नेता का मन इतना छोटा है कि उन्‍होंने अपने स्वागत कार्यक्रम में कोहनी मारकर कार्यकर्ता को हटा दिया ताकि उनकी फोटो अच्‍छी आ सके। उन्होंने कहा किजनता ने लोकसभा चुनाव में जाति और सम्प्रदाय को भूलकर एक निर्णायक जनादेश दिया। उसने भारत की छवि को चार चांद लगा दिए। आपके इसी जनादेश का परिणाम है कि आज भारत की आवाज दुनिया मजबूती से सुन रही है। विश्व का हर देश, हर क्षेत्र भारत के साथ खड़ा दिखता है। भारत के साथ मिलकर आगे बढ़ने के लिए उत्साहित है।

‘विपक्षी कश्मीर-लद्दाख पर घड़ियाली आंसू बहा रहे’

प्रधानमंत्री ने कहा, ”मैं विरोधियों (कांग्रेस-राकांपा) को चुनौती देता हूं कि आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में फर्म स्टैंड लेकर सामने आएं। अगर दम है तो इस चुनाव में और आने वाले चुनावों में जम्मू कश्मीर और लद्दाख के ‌विषय में अनाप शनाप बातें करने वाले लोग घोषणापत्र में ऐलान करें कि अनुच्छेद 370 को वापस लाएंगे। दावा करें कि 5 अगस्त के निर्णय को पलट देंगे, मैं चुनौती देता हूं। इनमें से किसी में यह दम है क्या? क्या हिंदुस्तान ऐसा किसी को करने देगा। आपका राजनीतिक भविष्य तक नहीं बचेगा। विपक्षियों को पता है उनकी चलने वाली नहीं इसलिए घड़ियाली आंसू बहाने में जुटे हैं। कश्मीर में हालात सामान्य होने में चार महीने भी नहीं लगेंगे।”

मुंबई में 18 अक्टूूबरको मोदी की अंतिम रैली

प्रधानमंत्री बुधवार और गुरुवार को तीन रैलियांकरेंगे। इस दौरान वे अकोला, ऐरोली (नवी मुंबई), पर्टूर, पुणे, सतारा और परली जाएंगे। आखिर में वे 18 अक्टूबर को मुंबई में चुनावी जनसभा के साथ महाराष्ट्र में चुनावी अभियान का समापन करेंगे। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे।ऐसे में सभी पार्टियांप्रचार के आखिरी दिनों में पूराजोर लगा रहीं हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा केकार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही राज्य में प्रचार की कमान संभाली है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: