माजीसा व जे.के.राईस मिल को बंदकर हटाए जाने धरना देकर ज्ञापन सौंपा पारावासियों ने
सीपीआई व डाॅ.अम्बेडकर सेवा संस्था कोण्डागांव ने दिया समर्थन

छत्तीसगढ़ कोंडागांव से
संतोष सावरकर
9407788609

माजीसा व जे.के.राईस मिल को बंदकर हटाए जाने धरना देकर ज्ञापन सौंपा पारावासियों ने
सीपीआई व डाॅ.अम्बेडकर सेवा संस्था कोण्डागांव ने दिया समर्थन

जिला मुख्यालय कोण्डागांव के महात्मा गांधी वार्ड आड़काछेपडा में माजीसा राईस मिल व जे.के.राईस मिल के नाम से संचालित दोनों मिलों को बंदकर अन्यत्र स्थान्तरित किये जाने संबंधी छ.ग.राज्य के महामहिम राज्यपाल व मुख्य मंत्री के नाम पूर्व में प्रेषित ज्ञापन पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं होने से 29 दिसम्बर 2020 को मिल हटाओ संघर्श समिति आड़काछेपडापारा कोण्डागांव के बेनर तले जिला कार्यालय के सामने पारावासियों के द्वारा एक दिवसीय धरना देकर पुनः एक ज्ञापन सौंपा गया। मिल हटाओ संघर्श समिति द्वारा किए जा रहे आंदोलन को सीपीआई कोण्डागांव व डाॅ.अम्बेडकर सेवा संस्थान द्वारा समर्थन देते हुए सहयोग किया गया। आज एक दिवसीय धरना प्रदर्षन के बाद सीपीआई जिला परिशद कोण्डागांव जिला सचिव तिलक पाण्डे एवं डाॅ.अम्बेडकर सेवा संस्थान अध्यक्ष संतोश सावरकर सहित मिल हटाओ संघर्श समिति से जुडे समस्त पारावासियों ने जिला कार्यालय में पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए प्रषासन को चेतावनी दिया कि तत्काल उनकी मांग को पूरा नहीं किया गया तो और भी उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी प्रषासन की होगी। इस दौरान उक्त सहित सुभाष चंद्र बोस वार्ड पार्षद लक्ष्मी ध्रुव, श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड पार्षद कामदेव कोर्राम, नफीसा, रेखा देवांगन, शंकर देवांगन, नारद निषाद, कन्हैया मानिकपुरी, चमरू निषाद, प्रेम देवांगन, मुकेश मार्कंडेय, पंपा मंडल, दीपक बांधे, लक्ष्मण पटेल, कार्तिक, जया देवांगन, महेंद्र सागर, दीनबंधु देवांगन, चोखा देवांगन, छेडूराम आदि मोहल्लावासियों के साथ-साथ सीपीआई कोण्डागांव के शैलेश शुक्ला, दिनेश मरकाम, बिसम्बर मरकाम, जयप्रकाश नेताम डॉ अंबेडकर सेवा संस्था कोंडागांव से संतोष सावरकर ईराशद खान ओम प्रकाश नाग आदि भी काफी संख्या में उपस्थित रहे।
ज्ञात हो कि जिला मुख्यालय कोण्डागांव नगर पालिका क्षेत्र के आड़काछेपड़ापारा के महात्मागांधी वार्ड में माजीसा राईस मिल (अंरवा तथा उसना) व जे.के.राईस मिल (अंरवां) का संचालन किया जा रहा है, जिससे उक्त मोहल्ले में काफी प्रदुशण फैल रहा है। उक्त दोनों मिलों से निकलने वाली काली राख तथा धुंआ के हवा में उड़ने व मिल से निकलने वाले गंदे पानी से निकलने वाली बदबु की वजह से मोहल्लावासियों को सांस लेने में काफी कठिनाईयांे का सामना करना पड़ रहा है, मिल का राख रोज सुबह घरों में परत के रुप में बैठ जाता है। राख, धुआं व गंदे पानी की वजह से पीने का पानी भी दुशित हो रहा है, मिलों से निकलने वाले राख, धुएं तथा गंदे पानी की बदबु की वजह से मोहल्लेवासियों को दमा, टीबी, स्वांस संबंधी गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। दोनों मिलों के नजदीक ही कलेक्टर/पुलिस अधीक्षक कार्यालय का कम्पोजिट भवन व जिला पंचायत कार्यालय स्थित है वहीं निकट भविश्य में जिला व सत्र न्यायालय स्थापना की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। साथ ही मिल के समीप ही स्कुल, पचास सीटर ट्रायबल छात्रावास, बाल गृह (सुरज विकास संस्थान) व नगर सेना का कार्यालय स्थित है। उक्त संस्थाओं में कार्य करने वाले कर्मचारियों, अधिकारियों, सड़क से गुजरने वाले राहगिरों व मोहल्लेवासियों को मिल से निकलने वाले राख, धुंआ व गंदे पानी से निकलने वाली गंदगी से काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। उक्त दोनों मिलों को तत्काल बंदकर कोण्डागांव नगर से अन्य स्थान्तरित करने हेतु मोहल्लेवासियों द्वारा जिला बनने के पूर्व से लेकर जिले में कलेक्टर की पदस्थापना के बाद तक कलेक्टर व विधायक को निरंतर व कई बार आवेदन/ज्ञापन सौंपा जा चुका है। जिस पर कलेक्टर द्वारा 04/09/2014 तथा 01/03/2017 को उसना मिल को बन्द करने का आदेष भी पारित किया गया लेकिन जिस पर आज पर्यंत कोई कार्यवाही नहीं हो सकी है।

Leave a Reply