योजनाओं से वंचित ग्रामीण, निर्माण की गुणवत्ता पर भी सवाल

सरपंच और सचिव पर लगाए मनमानी के आरोप

सीहोर. इछावर ब्लाक की ग्राम पंचायत बावडय़ानोआबाद मे शासन की योजनाओं को सरपंच और सचिव आपस मे मिलकर पलीता लगा रहे हैं। ग्रामीणों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा। वहीं स्वच्छता के मामले मे गांव की हालत भी दयनीय बनी हुई है। पिछले वर्षों में जो भी निर्माण कार्य हुए वह भी गुणवत्ताहीन हैं। कुछ लोगों के घरों मे शौचालय तक नहीं हैं। जिसको लेकर ग्रामीण खासे परेशान हैं।

ब्लॉक मुख्यालय से 13 किलोमीटर दूर स्थित बावडिय़ा नोआबाद पंचायत अंतर्गत आने वाले गांवों के रहवासियों को शासन की योजनाओं के लाभ से वंचित हैं। वहीं सड़कों की स्थिति बदहाल है, गांव में स्वच्छता के अभाव में जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। जिससे ग्रामीण बीमारियों का शिकार हो रहे हैं।

ग्रामीण अमरसिंह, सूरजसिंह, ज्ञानसिंह, मुकेश मेवाड़ा, जगदीश, गंगाप्रसाद आदि का कहना है कि हमें शासन की समग्र स्वच्छता अभियान योजना का लाभ नहीं मिला। घरों मे शौचालय नहीं है। मजबूरी में शौच निवृति के लिए गांव से बाहर खुले में जाना पड़ता है।

हमें न जाने क्यूँ शासन की योजनाओं के लाभ से वंचित रखा जा रहा है। ग्रामीणों का यह तक आरोप लगाया है कि सरपंच ने अपने पुत्रों को बीपीएल सूची में डालकर शासन से अनुचित लाभ लिया व शौचालय तथा आवास भी बनवा दिए। पंचायत कार्यालय के ताले कई-कई दिनों तक नहीं खुलते हैं। आखिर हम अपनी समस्या लेकर कहां जाएं।

गुणवत्ता के अभाव में ढह गई पुलिया
निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के अभाव में बावडिय़ानोआबाद से ग्राम पांगरा के बीच सैंधोखेड़ी जोड़ पर निर्मित पुलिया समय से पूर्व ही क्षतिग्रस्त हो गई है। ग्रामीण बताते हैं कि इस पुलिया के निर्माण कार्य में बरती गई अनियमितता की पोल इसी से खुलती है कि पहली बारिश मं ही यह पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई।

ग्रामीण सूरजसिंह वर्मा, भारमल सिंह मेवाड़ा, मनोहर वर्मा, शुभम् वर्मा, बद्रीप्रसाद पुलिया के अलावा पंचायत द्वारा सड़क निर्माण घटिया स्तर का तो कराया ही था। साथ ही सड़क के दोनों ओर नालियों का निर्माण भी नहीं कराया गया। जिससे सड़क पर इतना पानी बहता रहता है कि लोगों का पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। सब से ज्यादा छोटे-छोटे स्कूली बच्चे एवं महिलाएं परेशान हैं। उनका कहना है कि उनके द्वारा कई बार उच्चाधिकारी को समस्याओं से अवगत कराया गया, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला।

लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई करेंगे
आपके द्वारा बात संज्ञान मे लाई गई है। पात्रता के आधार पर ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का लाभ जरुर दिलवाया जाएगा। साथ ही निर्माण कार्यों मे लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ जांच उपरांत कार्रवाई की जाएगी।
– आयुषी गोयल, सीईओ, जनपद

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply