साइबर टीम को बड़ी सफलता 10000 का इनामी फरार आरक्षक खोड़े पुलिस गिरफ्त में।



लगभग 1 महीने से अधिक समय हो चुका था उज्जैन महाकाल थाने में पदस्थ आरक्षक सुदेश खोड़े उज्जैन बहुचर्चित शराब जिंजर कांड में रहे आरोपी की तलाशी लगातार उज्जैन पुलिस करती चली जा रही थी लेकिन सफलता नहीं मिल पा रही थी।
उज्जैन पुलिस कप्तान सत्येंद्र कुमार शुक्ल के निर्देशन पर और सिटी एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह के आदेशानुसार साइबर टीम को 10000 का इनामी फरार चल रहे आरक्षक सुदेश खोड़े की गिरफ्तारी के लिए विशेष आदेश दिए गए।
टीम में साइबर सेल प्रभारी विक्रम सिंह चौहान सुनील ठाकुर कुलदीप भारद्वाज सोमेंद्र दुबे सहित और भी कई साइबर टीम के जवान आरक्षक सुदेश खोडे की गिरफ्तारी के लिए चारों तरफ अपना जाल बिछा दिया।
अचानक भोपाल से उज्जैन पहुंचे 10000 का इनामी आरक्षक सुदेश खोड़े वैसे ही साइबर सेल द्वारा बिछाया गया जाल में फस गया और साइबर सेल ने गिरफ्तार करने में एक अच्छी सफलता हासिल की है।
साइबर सेल द्वारा गिरफ्तार आरोपी को महाकाल पुलिस को सुपुर्द कर दिया है।


अपर कलेक्टर रावत दतिया से सीईओ उज्जैन विकास प्राधिकरण विदिशा मुखर्जी सी ई ओ हाउसिंग बोर्ड।


राज्य प्रशासनिक सेवा राज्य सरकार ने मैदानी अफसरों में बदलाव शुरू कर दिया है मंगलवार को 12 राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों को नई जिम्मेदारी दे दी गई है मुख्य रूप से डिप्टी कलेक्टरों को बदला गया है गुना में पदस्थ अपर कलेक्टर विदिशा मुखर्जी को सीईओ हाउसिंग बोर्ड में पदस्थ किया गया है वहीं दतिया के अपर कलेक्टर सुजान सिंह रावत को सीईओ उज्जैन विकास प्राधिकरण में पदस्थ किया गया है।

Leave a Reply