‌ आत्म निर्भर भारत पर उठे सवाल राशन की दुकान चल रही पंचायत में आंगनवाड़ी लग रही मंदिर में

बारिश में ध्वस्त हुई आंगनवाड़ी भवन

जनपद पंचायत पेटलावद के अंतर्गत ग्राम मोइवागेली में अजीबोगरीब हालात है स्कूल फलिया में पदस्थ आंगनवाड़ी भवन बारिश के दौरान ध्वस्त हो गयी थी जिस कारण तभी से आंगनवाड़ी की व्यवस्था समीप में ही मंदिर में की गई है जिस कारण आंगनवाड़ी कार्यकर्ता वह बच्चे किशोरिया तो परेशान हो ही रहे हैं साथ हि यह भवन जो मंदिर कार्य के उपयोग के लिए बनाया गया था वह भी परेशान हो रहे हैं

मंदिर में लग रही आंगनवाड़ी

यह सही है कि आंगनवाड़ी भवन बारिश में ध्वस्त हो गया था जिले से लोक परिसंपत्ति में जानकारी मांगी थी जो जिले में प्रदाय कर दी गई है शीघ्र ही समस्या का समाधान होने की संभावना है सुश्री इशिता मसानिया परियोजना अधिकारी पेटलावद

शासकीय उचित मूल्य की दुकान भी ग्राम पंचायत में लग रही है

वहीं दूसरी तरफ शासकीय उचित मूल्य की दुकान भी ग्राम पंचायत में लग रही है क्योंकि उक्त दुकान का गोडाउन भवन भी लालफीताशाही के चक्कर में नहीं बन पाई है इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि ग्रामसभा केसे आयोजित होती होंगी और आमजन सरपंच सचिवों से कैसे संपर्क करते होंगे कुल मिलाकर आम जनता परेशान हो रही है और शासकीय कार्य बाधित हो रहे हैं ऐसे में कमिश्नर जी व कलेक्टर साहब जो शासकीय योजना का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति को मिले इसके लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं यहां तक की पात्र व्यक्ति को शासन की समस्त लाभकारी योजना का लाभ मिल सके इस हेतु बैठकों के माध्यम से जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को सचेत कर रहे हैं किंतु इसके ठीक विपरीत हालात बद से बदतर है

-: मैंने गोडाउन भवन व आंगनवाड़ी भवन के निर्माण के लिए ग्राम सभा में अनुमोदन कर कई बार जिले व जनपद में प्रस्ताव भेजे गए किंतु आज दिनांक तक कोई कार्यवाही नहीं हुई और टेंडर के कार्य जल्दी स्वीकृत हो जाते हैं इस पर पंचायती राज व्यवस्था पर भी सवाल उठते हैं :- श्रीमती समसू निनामा सरपंच ग्राम पंचायत

Leave a Reply