आंवली घाट का पुल होशंगाबाद और सीहोर के दिलों को जोड़ने वाला पुल : मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 49 करोड़ 56 लाख रुपये की लागत से बने आंवली घाट पुल का लोकार्पण किया गया।
  • कोरोना की तीसरी लहर को रोकने जनता पूरी सावधानी बरते



भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आंवली घाट का पुल केवल पुल नहीं होशंगाबाद और सीहोर के दिलों को जोड़ने वाला पुल है। आंवली घाट पुल के बनने से अब भोपाल का सफर और अधिक आसान होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज होशंगाबाद की तहसील सिवनी मालवा के ग्राम हथनापुर में आंवली घाट पुल के लोकार्पण पर हितग्राहियों से संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 49 करोड़ 56 लाख रुपये की लागत से बने आंवली घाट पुल का लोकार्पण किया गया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए प्रदेश में ऑक्सीजन बेड्स, आईसीयू बेड्स, बच्चों के लिए वार्ड, ऑक्सीजन प्लांट आदि सभी तैयारियाँ सुनिश्चित की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दिन-रात 24 घंटे किए गए प्रयासों से प्रदेश में कोरोना पर काबू पाया गया है, लेकिन कोरोना की तीसरी लहर की आशंका की आहट है। केरल राज्य और अमेरिका जैसे देशों में निरंतर कोरोना के प्रकरण बढ़ रहे हैं, इसलिए किसी भी कीमत पर लापरवाही न की जाए। अक्टूबर माह तक बड़े आयोजनों को टालें।

गरीबों और किसानों को घाटा न हो यही प्रयास

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की पहली और दूसरी लहर के संकट में भी खरीदी कार्य पर असर नहीं पड़ने दिया गया। मूंग के दाम सस्‍ते हुए तो हमने तय किया कि प्रदेश में समर्थन मूल्‍य पर मूंग खरीदी की जायेगी। इस असंभव कार्य को संभव करते हुए प्रदेश में किसानों से मूंग खरीदी सतत की जा रही है। गरीबों और किसानों को किसी भी प्रकार का नुकसान न हो, यही प्रयास हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वर्षा कम होने से बांधों में पानी नहीं हैं। ऐसी स्थिति में बिजली की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है।

शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना से बचाव का एकमात्र प्रभावी उपाय टीकाकरण है। उन्होंने कहा कि इस माह के अंत तक जिले के सभी शत-प्रतिशत नागरिकों को टीके का पहला डोज लगवाया जाना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना का पहला और जिन नागरिकों का दूसरा डोज ड्यू है, उनसे टीका लगवाने का वचन लिया।

सही मायनों में हुआ विकास

सांसद श्री राव उदय प्रताप सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा होशंगाबाद सहित पूरे प्रदेश में सही मायनों में विकास की गंगा बहाई गई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश को बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाया

विधायक सिवनी मालवा श्री प्रेम शंकर वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा प्रदेश को बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाया गया है। उन्होंने कहा कि नर्मदा पुल पर ब्रिज बनाने की वर्षों में पूरी माँग आज पूरी हुई है। आवली घाट पुल के लोकार्पण से जिले में खुशी की लहर है।

कीर्ति के दोनों हाथों का होगा प्रत्यारोपण

सिवनी मालवा के रहने वाले श्री गुरु दयाल सिंह राजपूत की पुत्री कीर्ति राजपूत के विद्युत दुर्घटना में दोनों हाथ कट जाने के प्रकरण में मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा आर्थिक सहायता संबंधी समस्त आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश जिला प्रशासन को दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बेटी कीर्ति के दोनों हाथ लगाए जाएंगे।

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री Dr Prabhuram Choudhary, विदिशा सांसद श्री Ramakant Bhargava, विधायक डॉ. सीताशरण शर्मा, श्री विजयपाल सिंह, श्री प्रेम शंकर वर्मा, श्री ठाकुर दास नागवंशी सहित जन-प्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने नर्मदा नदी पर बने उच्च स्तरीय पुल का लोकार्पण किया

आवागमन सुगम होने के साथ होगी समय की बचत

49 करोड 56 लाख की लागत से बना पुल

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के आंवली घाट के पास नर्मदा नदी पर 49 करोड़ 56 लाख की लागत से निर्मित पुल का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि इस पुल के बन जाने से लोगों का आवागमन सुगम होगा और समय भी बचेगा।

लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैंने जब मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तब प्रदेश कोरोना संकट से जूझ रहा था। हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जान बचाना थी। हमने अस्थाई अस्पतालों का निर्माण, ऑक्सीजन और दवाओं की व्यवस्था, इलाज के लिए सभी सुविधाएँ उपलब्ध कराने के लिए दिन-रात काम किया। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण प्रदेश का विकास प्रभावित हुआ है, लेकिन अब फिर से विकास के पथ पर प्रदेश आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान कहा कि कोरोना संकट के दौरान प्रदेश के किसानों से मूंग का उपार्जन किया गया। गरीबों को मुफ्त राशन वितरित किया। बहनें अपने पैरों पर खड़ी हो सके, इसके लिए प्रदेश के 800 स्व-सहायता समूह को 160 करोड़ रुपए का बैंक लिंकेज और युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने का काम किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों के आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं, जिससे वे विभिन्न चिन्हित निजी अस्पतालों में भी इलाज करा सकें। प्रदेश के विकास में धन की किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी।

सीहोर जिले के प्रभारी एवं स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण मंत्री Dr Prabhuram Choudhary ने कहा कि कोरोना नियंत्रण के लिए मध्यप्रदेश के क्राइसिस मैनेजमेंट मॉडल की पूरे देश में सराहना की गई। उन्होंने कहा कि टीकाकरण में भी हमने रिकॉर्ड बनाया है। प्रदेश के 18 वर्ष से अधिक आयु के 4 करोड़ 72 लाख से अधिक नागरिकों का टीकाकरण किया गया है। विदिशा सांसद श्री Ramakant Bhargava तथा होशंगाबाद सांसद श्री Uday Pratap Singh ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply