पड़ोसियों के विवाद में एक महिला जली हुई हालत में बघाना थाने पहुंची पुलिस ने गंभीर हालत देखते तत्काल जिला चिकित्सालय भर्ती कराया

नीमच। शुक्रवार को पड़ोसियों के विवाद में एक महिला जली हुई हालत में बघाना थाने पहुंची जहां बघाना पुलिस ने महिला की गंभीर हालत देखते हुवे पहले  महिला को शाश्किय वाहन से तत्काल जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया। जहा महिला का उपचार चल रहा है।चिकित्सको के अनुसार महिला लगभग 80 प्रतिशत से अधिक जल चुकी है जिसकी हालात गंभीर बताई जा रही है।घटना की सूचना पर नायब तहसीलदार पिंकी साठे एवं बघाना थाना प्रभारी राजेन्द्र नसर्वाडिया जिला अस्पताल पहुचे ओर महिला के बयान लिए गए। वही जिला अस्पताल में घटना के मामले की जानकारी देते हुवे। महिला की माता शांति बाई यादव एवं पिता मोतीलाल यादव ने बताया कि महिला पूजा पति किशन लाल यादव उम्र 30 वर्ष निवासी अरनिया कुमार जयसिंह पुरा पंचायत थाना बघाना में रहती है  जहां उनके पड़ोसी कलाबाई और उनके पति कंवरलाल अपने परिवार के साथ निवास करते हैं कलाबाई और कंवर लाल का पूर्व में भी पूजा के साथ कई बार विवाद हो चुका है जिसकी शिकायत भी थाने पर कर रखी है शुक्रवार को जब पूजा के बच्चे और मोहल्ले के अन्य बच्चे साथ में खेल रहे थे उसी दौरान बच्चों के बीच विवाद हो गया।बच्चो के विवाद के कारण कलाबाई और कंवरलाल एवं पूजा के बीच भी विवाद हो गया विवाद इतना बढ़ गया कि मामला मारपीट तक जा पहुंचा। और ऐसा बताया जा रहा है कि कंवरलाल व उसकी पत्नी कला बाई ने महिला पूजा पर घासलेट डालकर आग लगा दी हालांकि इस बात की पुष्टि कोई भी अधिकारी नहीं कर रहा है और ना ही महिला पूजा के माता-पिता उस वक्त मौके पर थे। हालांकि उपरोक्त घटना के बाद पहले बघाना थाने पर कंवरलाल उसकी पत्नी कलाबाई एवं उसके परिजन पहुंचे और उन्होंने शिकायत दर्ज कराई कि हमारा पड़ोसियों के साथ विवाद हो गया है इसी बीच महिला पूजा भी  जली  हुई हालत में बघाना थाना पहुंची जहां जहां महिला की गंभीर अवस्था देखते हुए महिला को पहले जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया उसके पश्चात पुलिस ने मौके पर जाकर घटना की जानकारी  जुटाना शुरू कर दी। ऐसा बताया जा रहा है कि पूजा से पहले थाने पर पहुंचे कंवरलाल उसकी पत्नी कलाबाई व परिजनों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है इधर जैसे ही घटना की जानकारी प्रशासन को लगी तो नायब तहसीलदार पिंकी साठे जिला अस्पताल पहुंची और महिला के बयान लिए गए। बताया जा रहा है कि महिला पूजा के 6 बच्चे ईशु यादव, कोमल यादव, नेहा यादव, ललित यादव, नवीन यादव एवं हेमंत यादव है जो सभी नाबालिक है फिलहाल महिला का जिला चिकित्सालय में उपचार चल रहा है वही बघाना पुलिस भी उपरोक्त मामले की बारीकी से जांच कर रही है उपरोक्त घटना से जांच के बाद ही पर्दा उठ पाएगा कि महिला ने स्वयं को आग लगाई या पड़ोसियों ने उसके ऊपर घासलेट डालकर उसे जलाने का प्रयास किया।

Leave a Reply