कांग्रेस नेता ने कलेक्टर से पूछा क्या राज्य सरकार ने भाजपा के धरने के लिये नई गाइडलाइन जारी कर दी

राजनैतिक रोटियां सेंकने वाले भाजपाईयों के खिलाफ दर्ज हो एफआईआर :- सिद्धार्थ_*

रीवा लोकसभा से पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी सिद्धार्थ तिवारी_ ने भाजपा द्वारा आयोजित धरने की तीखी भर्त्सना करते हुये कहा कि ऐसे काल मे जब मानवता पीड़ित है ,तब धरने की राजनैतिक रोटियां सेंकने वाले भाजपाइयों को शर्म आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जहाँ एक तरफ आमजन शादी ब्याह व अन्य सुअवसरों की तैयारी में लाखों रुपए बर्बाद करने के बाद कोरोना से लड़ाई लड़ने के लिए ऐसे आयोजनों को रद्द कर बलिदान दे रहा है। वही दूसरी ओर सार्वजनिक जीवन मे रह रहे भाजपाई जनप्रतिनिधि जिन्हें समाज के सामने उदाहरण पेश करना चाहिए वो राजनैतिक स्टंटबाजी में मशगूल है।और समाज कोरोना के संवाहक बने हुये है। उन्होंने कहा कि जिला कलेक्टर रीवा की जनता को बताये कि किन नियमो के तहत धारा 144 में कोविड नियमो का उल्लंघन करते हुये धरने की अनुमति दी है। रीवा वासी जिला कलेक्टर से यह जानना चाहते है कि क्या राज्य शासन ने भाजपाइयों के अलग से कोविड की गाइड लाइन जारी की है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन जलती चिताओं पर राजनैतिक रोटियां सेंकने वाले भाजपाइयो के खिलाफ कोविड नियमावली के उल्लंघन को लेकर एफआईआर दर्ज करें। *धरना करना है तो स्वास्थ्य प्रणाली की बदहाली पर करे भाजपाई।* उन्होंने कहा कि ये भाजपा नेता सरकार की अव्यवस्था, कुप्रबंधन, उदासीनता, लापरवाही, सुविधाओं, प्राणवायु ,जीवन रक्षक दवाओं की समस्या पर मुँह में दही जमाये बैठे रहे,इनका ध्यान कोरोना संकट पर होना चाहिए। जनता को उनसे निजात दिलवाने पर होना चाहिए ,अगर धरना करना है तो स्वास्थ्य प्रणाली की बदहाली पर करना चाहिए। लेकिन ये सत्ता सुख के लिये किसी भी हद तक गिर सकते है। ये जनता जान चुकी है उन्होंने कहा इनकी दो मुँही राजनीति का पर्दाफाश जनता के सामने हो चुका है जिसका जबाब दमोह की जनता ने दे दिया है।आने वाले समय मे रीवा सहित प्रदेश की जनता इन्हें सबक सिखाएंगी।

Leave a Reply