दहेज की बलि चढ़ी एक और बेटी, ससुरालियों ने जहर खिलाकर की हत्या कर गंगा में फेंका था पूजा का शव, पुलिस ने किया खुलासा पढ़िए पूरी खबर…

उझानी/ बदायूं,। थाना क्षेत्र के एक गांव में छह माह पहले अचानक ससुराल से गायब हुई विवाहिता के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस के मुताबिक दहेज के लिए ससुराल वालों ने विवाहिता की जहर खिलाकर हत्या करने के बाद शव को गंगा में फेंक दिया था। दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

कोतवाली क्षेत्र के गांव अढ़ौली निवासी गंग प्रसाद ने पिछले साल तीन दिसंबर में कोतवाली में बेटी की गुमशुदगी दर्ज कराते हुए ससुराल वालों पर उसकी बेटी की हत्या कर शव गायब करने का आरोप लगाया था। तहरीर में बताया था कि उसने करीब तीन साल पहले अपनी बेटी पूजा(25) की शादी क्षेत्र के गांव गंगोरा निवासी सत्यवीर पुत्र राजवीर से की थी। आरोप लगाया था कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए बेटी को प्रताड़ित करते थे। मांग पूरी नहीं होने पर ससुराल वालों ने उसकी हत्या करके शव गायब कर दिया।

पुलिस ने मामले में पति सत्यवीर, सास रजनी उर्फ राजवती, देवर रघुवीर व अनूप के खिलाफ देहज हत्या की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की थी। इसके बाद पुलिस ने पूजा की खोजबीन शुरू कर दी। पुलिस ने सत्यवीर की मां रजनी उर्फ राजवती व थाना मुजरिया क्षेत्र के गांव सगराय निवासी मौसा वेदप्रकाश को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि पूजा झगड़ालू किस्म की थी। दहेज की मांग करने पर मारपीट करने पर उतारू हो जाती थी। पूजा को सल्फास खिलाकर उसकी हत्या कर दी और उसका शव गंगा नदी में फेंक दिया। पुलिस शव को तलाश करने का प्रयास कर रही है। अन्य आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया हैं। घटना के खुलासे से पूजा के परिजनों को काफी धक्का लगा है।

Leave a Reply