तहसीदार को बस्ते सौप अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए पटवारी, जानिए क्या है पटवारी संघ की मांगे, पढ़िए पूरी खबर

मध्यप्रदेश पटवारी संघ की वर्षों से लंबित मांगों को लेकर आज से जिले के पटवारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं और हड़ताल पर जाने से पहले पटवारी संघ ने कलेक्टर कार्यालय में तहसीलदार अजय हिंगे को अपने बस्ते सोपे। प्रदेश भर में 19 हजार पटवारी एवं जिले में 250 पटवारी आज से अपने बस्ते तहसीलदार को सौंपकर कलम बंद हड़ताल पर गए! 

पटवारी संघ के सदस्यों ने जानकारी देते हुए बताया की मध्यप्रदेश पटवारी संघ वर्षों से लंबित मांगों के निराकरण को लेकर आंदोलन करता आ रहा है। पूर्व में भी कई बार ज्ञापन दिए गए परंतु सरकार द्वारा अब तक मांगों का निराकरण नहीं किया गया! जिसको लेकर कुछ दिनों पूर्व स्मरण पत्र भी सौंपा गया था। मांगे नहीं मानने पर चरणबद्ध आंदोलन की चेतावनी दी गई थी। उसके बाद भी सरकार द्वारा अब तक कोई उचित निराकरण नहीं किया गया! जिसको लेकर आज मंगलवार से प्रदेश भर में 19 हजार पटवारी एवं जिले में 250 पटवारी आज से अपने बस्ते तहसीलदार को सौंपकर कलम बंद हड़ताल पर गए! 

पटवारी संघ नीमच तहसील अध्यक्ष कैलाश पाटीदार ने बताया कि पटवारी संघ की मुख्य मांगे पटवारियों का ग्रेड पे 28 हजार करते हुए समयमान वेतनमान, विसंगति को दूर किया जाना है। और गृह जिले में पदस्थापना एवं नवीन पटवारियों की सीपीसीटी की अनिवार्यता संबंधी नियम समाप्त किए जाने की है। 

पटवारियों की हड़ताल से शासन के समस्त काम प्रभावित होंगे! इसके साथ ही किसानों की प्रतियां एवं नामांतरण जैसे काम भी प्रभावित होंगे। पटवारी संघ का कहना है की जब तक सरकार द्वारा हमारी मांगे नहीं मानी जाती तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

Leave a Reply