Breaking news:-मशहूर तस्कर बाबू सिंधी का गिरोह का पर्दाफाश, एक दर्जन सफेदपोश तस्कर शामिल केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो की कार्रवाई से हडकंप मचा, प्रकाश गोलू मोटवानी, सौरभ कोचटटा, सटोरिया सुमित शर्मा, पोस्ता कारोबारी सुबोध भंसाली, मुकेश बंसल सहित हनी और नाम का जल्दी ही खुलासा, पढ़िए पूरी खबर…


सीबीएन इनके घर गोदाम में दबिश दे तो अफीम, धोलापाली और दो नंबर में रखे करोडों रूपए मिल सकते है

नीमच। केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो (CBN) ने पोस्ता कारोबार की आड में मादक पदार्थों की तस्करी में लिप्त् तस्कर बाबू सिंधी उर्फ जयकुमार सिंधी गिरोह का गुरूवार को पर्दाफाश कर दिया है। करीब 100 क्विंटल मादक पदार्थ मिलने की खबर है। नीमच के इतिहास में यह बडी कार्यवाही मानी जा रही है। बाबू सिंधी के साथी प्रकाश गोलू मोटवानी, सौरभ कोचटटा, सटोरिया सुमित शर्मा, पोस्ता व्यापारी सुबोध भंसाली, मुकेश बंसल, टीना, शौभित पुरोहित, विक्रम अजमेरा, मारवाडा, विनोद गुर्जर, शिवचरण गुर्जर सहित दो दर्जन तस्कर इस गिरोह में शामिल थे। ये थार, फार्चूनर गाडियों में घूमते थे। बाबू सिंधी ने तस्करी से आए पैसे से खुद के नाम और उसके साथियों के नाम से प्रापर्टी खरीद रखी थी। हर दूसरे दिन ये लग्जरी कारें ला रहे थे। बताया जा रहा है कि इनके घर, गोदाम और बैंक खातों में तस्कर बाबू ने कुछ दिनों पूर्व ही करोडों रूपए ट्रासफर किए थे। बाबू सिंधी औरप्रकाश गोलू मोटवानी, सौरभ कोचटटा, सटोरिया सुमित शर्मा, पोस्ता व्यापारी सुबोध भंसाली, मुकेश बंसल, टीना, शौभित पुरोहित, विक्रम अजमेरा, मारवाडा, विनोद गुर्जर, शिवचरण गुर्जर भाया की कॉल डिटेल्स निकाली जाए तो इस गिरोह के कई सबूत मिलेंगे। स्थानीय पुलिस इन पर हाथ नहीं डाल रही थी और ये खुलेआम तस्करी कर रहे थे। कुछ दिन पूर्व 37 क्विंटल डोडाचूरा की खेप नीम पुलिस अधीक्षक सूरजकुमार वर्मा के निर्देशन में पकडी थी, इस मामले में मीडिया ने बाबू सिंधी के तार होने की खबर प्रकाशित भी की थी, मीडिया ने पुलिस को आगाह किया था कि बाबू सिंधी तस्करी कर रहा है, लेकिन पुलिस ने कोई ध्यान नहीं दिया ओर आज केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो ने बडी कार्यवाही को अंजाम दिया है।

मंदसौर स्थित बाबू के घर पर ताला, गोलू मोटवानी हुआ गायब

इस कार्यवाही के बाद तस्कर बाबू सिंधी गिरोह में हडकंप मच गया है। मंदसौर रेलवे स्टेशन के पास स्थित कॉलोनी में बाबू सिंधी का पैतृक घर है, वहां पर उसके भाई व अन्य सदस्य रहते है। घर पर ताला लगाकर बाबू सिंधी के परिजन गायब हो गए है, इधर प्रकाश गोलू मोटवानी जो कि कुछ दिनों पूर्व बाबू सिंधी के साथ जन्म दिवस मनाने के फोटो डाल रहा था, गायब हो गया है। एलआईसी चौराहे पर स्थित आंजना कॉम्पलेक्स में गोलू मोटवानी को बाबू सिंधी ने एक फ्लेट  दिलाया था, वहां से भी मादक पदार्थों की तस्करी की सूचनाएं मिली है, बाबू सिंधी का गुर्गा प्रकाश गोलू मोटवानी भूमिगत हो गए है। इधर अन्य इसके साथी सुबोध भंसाली, मुकेश बंसल, टीना, सुमित शर्मा, विक्रम अजमेरा, शौभित पुरोहित, विनोद गुर्जर, सौरभ कोचटटा, शिवचरण गुर्जर भागते हुए नजर आ रहे है। बाबू तस्कर गिरोह के इन तमाम सदस्यों के नाम टीम के पास पहुंच गए है।

Leave a Reply