खेल सुविधा दिलवाने के लिये नीमच का कोई धनी ना धोरी …??


फ़ुट्बॉल खेल के लिये खेलो इंडिया के तहत सेंटर का नीमच का चयन नही होना तो यही दर्शाता हैं . किसी भी जनप्रतिनिधि ने इसके लिए कोई प्रयास नही किये ..*
डाक्टर सम्पत स्वरूप जाजू



केंद्र सरकार द्वारा खेलों के स्तर को बढ़ाने के लिए मंदसौर में खेलो इंडिया के तहत हाकी के सेंटर शुरुआत की गई , जिसका स्वागत है खेलो इंडिया सेंटर के अंतर्गत हर प्रदेश में कुछ खेलों के लिए कुछ जगह चिन्हित कर वहां उस खेल के खिलाड़ी आगे निकल कर देश का नाम रोशन कर सकें इसके अंतर्गत मंदसौर को हॉकी सेंटर के लिए चुना गया व यहां खेलो इंडिया छोटा सेंटर बनाया गया इसमें देश के कई एन आई एस कोच द्वारा प्रतिक्षण दिया जाएगा मंदसौर सेंटर मैं सरकार द्वारा हॉकी कोच के लिए मंदसौर के ही वैभव चौरसिया को नियुक्त किया हैं मंदसौर में खेलो इंडिया के तहत खुले सेंटर का स्वागत हैं जिसका लाभ खिलाड़ियों को निश्चित ही मिलेगाक..
डाक्टर जाजू ने कहाँ की यह नीमच ज़िले का दुर्भाग्य रहा कि केंद्र सरकारों की खेल नितियो का लाभ लेने से वंचित रहा . मोदी सरकार के खेल मंत्री रहे राज्यवर्धन सिंहजी का नीमच से निकट का संबंध हैं लेकिन वे ज़ब खेल मंत्री थे उसका लाभ नीमच नही ले पाया कारण स्पष्ट हैं कि बग़ैर पहल के कोई भी योजना नही मिलती हैं . विगत एक लम्बे समय से स्थानीय खेल जगत से जुड़े व्यक्ति और सोश्यल मीडिया जिसमें समाचार और प्रिंट मीडिया भी है के माध्यम से विभिन्न खेलो के लिये सुविधाओं की माँग निरंतर कर रहे हैं परंतु ज़िम्मेदार लोग़ो ने उनकी माँगो को कभी भी गम्भीरतापूर्वक संज्ञान में नही लिया .
डाक्टर जाजू ने बताया की नीमच का फ़ुट्बॉल के साथ विभिन्न खेलो का एक इतिहास रहा हैं यहाँ के खिलाड़ियों ने प्रदेशस्तर से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर तक अपनी खेल प्रतिभा का प्रदर्शन कर नीमच और प्रदेश का नाम गौरान्वित किया हैं और आज भी विभिन्न खेलो के प्रतिभान खिलाड़ी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रहे हैं . लेकिन दुर्भाग्य हैं कि जो सुविधाएँ खेलो के लिये और खिलाड़ियों के लिये सरकारें दे रही हैं उसका लाभ लेने में ज़िला चूक रहा हैं .
डाक्टर जाजू ने जनप्रतिंधियो से अनुरोध किया हैं की हमारे ज़िम्मेदार लोग इस गम्भीर मुद्दे को संज्ञान में लेकर क्षेत्र को खेल सुविधाओं से लाभान्वित करवाएँगे ..

Leave a Reply