दलाली करने वाले BJP नेता का AUDIO:उज्जैन के महिला किडनैपिंग केस में आरोपी को बचाने का दावा; शंकर अहिरवार बोला- TI को सेट करेंगे, DM से पट्टा दिलवाएंगे

उज्जैन में पोहा फैक्ट्री में महिला के हाथ-पैर बंधी हालत में मिलने का मामला

उज्जैन में बीजेपी नेता और अजा मोर्चे के कार्यकारी समिति के सदस्य शंकर अहिरवार के सनसनीखेज 6 ऑडियो वायरल हुए हैं। जिसमें पोहा फैक्ट्री मालिक की परिचित से ‘डील’ पक्की करने के लिए उसने जज, एसपी, एडिशनल एसपी, कलेक्टर समेत बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी तक को जेब में बता दिया।

पोहा फैक्ट्री के परिवार वालों का आरोप है कि बीजेपी नेता अहिरवार पहले हमारी ओर से समझौते की बात करता रहा। जब उसे मुंह मांगी रकम नहीं मिली, तो उसने पीड़ित महिला के पक्ष में रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर बंटी बिंदल को गिरफ्तार करने की मांग कर डाली।

सोमवार को पोहा फैक्ट्री मालिक बंटी बिंदल के परिवार के सदस्यों ने बीजेपी नेता शंकर अहिरवार पर आरोप लगाया कि पूरे मामले में अहिरवार गुमराह करता रहा है। 25 लाख रुपए लेकर पीड़ित महिला से समझौता करने का दबाव बनाता रहा। जब हमने रुपए देने में असमर्थता जताई, तो उसने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीड़िता के पक्ष में बोलना शुरू कर दिया। आरोपी बंटी बिंदल को जल्द गिरफ्तार करने की मांग करने लगा।

बिंदल के परिवार ने आरोप लगाया कि अहिरवार अपने राजनीतिक कद का फायदा उठाकर पहले परिवार की परिचित महिला के माध्यम से फरियादी से समझौते के बदले राशि की मांग करता रहा। इस बीच उसने कई बार उज्जैन एसपी, एडिशनल एसपी सहित महिला थाने की टीआई का भी जिक्र किया। यही नहीं, अहिरवार ने जज के बारे में भी अनर्गल टिप्पणी की।

आरोपी बंटी बिंदल की पत्नी रजनी ने कहा कि शुरू में 5 लाख रुपए मांगे जा रहे थे। समझौता कराने के लिए कई बार फोन किए गए थे। नहीं मानने पर दुष्कर्म का आरोप लगाकर अब 25 लाख मांगे जा रहे हैं। इस संबंध में उन्होंने शंकर अहिरवार के ऑडियो भी दिए हैं।

पुलिस जब फैक्ट्री पहुंची तो महिला इस तरह मिली थी।

पुलिस जब फैक्ट्री पहुंची तो महिला इस तरह मिली थी।

बीजेपी नेता शंकर अहिरवार और बिंदल के परिवार के बीच बातचीत के ऑडियो के अंश।

शंकर अहिरवार – कोर्ट का कोई मालिक नहीं जज को कब क्या मूड में आ जाए, जज तो पागल होते हैं, उन्हें तो अहम रहता है, उनका तो लक्ष्य रहता है। मैंने इतने साल में इतनी सजा सुनाई और इतने माफ किए। बिंदल परिवार की महिला नीतू – हां, आप सही बोल रहे हो। शंकर अहिरवार – पत्रकार को इनके खिलाफ कर देंगे, महिला के खिलाफ पेपरों में छपवा देंगे। नीतू – हां सही है, पत्रकारों को सेट करना जरूरी है। वे सेट हो जाएंगे तो तकलीफ नहीं देंगे। शंकर अहिरवार – एससी एसटी एक्ट ने बहुत लोगों का नुकसान कर दिया। नीतू – हां वो तो है। शंकर अहिरवार – टीआई को सेट कर लेंगे। कलेक्टर से बोलकर महिला को जमीन का पट्टा दिलवा देंगे। उसे और क्या चाहिए। मैं रवि (नीतू का परिचित) को बीजेपी के संभागीय कार्यालय में बुला लूंगा। वहां वो किसी भी भाजपा नेता या कार्यकर्ता से पूछेगा, तो सभी बता देंगे कि अहिरवार कितना वजनदार नेता है। इससे रवि को भी विश्वास हो जाएगा।

Leave a Reply