नए कानून के तहत जिले में प्रशासन का सख्त एक्शन,अवैध निर्माण पर आज से चलेगा प्रशासन का बुलडोजर,

रतलाम: नए कानून के तहत जिले में प्रशासन का सख्त एक्शन, उपद्रव करने वाले आरोपियों से नुकसान की भरपाई के साथ ही अवैध निर्माण पर आज से चलेगा प्रशासन का बुलडोजर, यहां होगी अवैध कब्जा तोड़ने की कार्रवाई

January 13, 2022

रतलाम,13जनवरी2022/उपद्रव, दंगे या बलवे के दौरान सार्वजनिक और निजी सम्पत्तियों को होने वाले नुकसान की भरपाई आरोपियों से करने और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए प्रदेश में हाल ही में बनाए गए नए कानून का असर अब नजर आने लगा है। कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम एवं एसपी श्री गौरव तिवारी ने नए कानून के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है। अधिकारिक सूत्रों के अनुसार आज से आलोट मेें हुए उपद्रव में शामिल आरोपियों के अवैध निर्माण को तोड़ने की कार्रवाई भी शुरू की जा रही है ।

जिले के आलोट में तीन दिन पूर्व हुए बलवे में जिन सार्वजनिक सम्पत्तियों को नुकसान पंहुचाया गया,उसके नुकसान की वसूली अब आरोपियों से की जाएगी।नए कानून के तहत कार्रवाई का यह संभवत: जिले का पहला मामला है। आलोट पुलिस ने बलवे के 32 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

आज से अवैध निर्माण को हटाने की कार्रवाई शुरू होगी

कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने बताया कि आलोट में हुए उपद्रव के आरोपियों के खिलाफ लोक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3/4 सहित भारतीय दंड संहिता की धारा 341, 294, 323, 506, 147,148 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। 32 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। सभी आरोपियों के अपराधिक रिकार्ड खंगाले जा रहे हैं वहीं उनकी अवैध संपत्तियों की पड़ताल भी की जा रही है। प्रशासन द्वारा आरोपियों के अवैध निर्माण को तोड़ने की कार्रवाई भी शुरू की जा रही है। कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने बताया कि गुरुवार को आलोट में एक आरोपी की अवैध संपत्ति को तोड़ने की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि उपद्रव और दंगा करने वालों से प्रशासन पूरी सख्ती से निपटेगा और प्रदेश सरकार द्वारा लागू नए कानून के तहत नुकसान की भरपाई भी उन्हीं से की जाएगी।

यह है मामला

उल्लेखनीय है कि विगत 9 जनवरी को एक विवाद के दौरान आरोपियों ने बिजली विभाग के इलैक्ट्रिक पाइन्ट को तोड कर उसमे आग लगा दी थी। इसके अलावा एक किराना व्यवसाई की दुकान पर पथराव कर नुकसान पंहुचाया गया था। इसके अलावा एक व्यक्ति से मारपीट कर उसकी मोटर साइकिल में तोडफोड की गई थी। आरोपियों ने कई अन्य सम्पत्तियों को भी नुकसान पंहुचाया था। आलोट पुलिस ने इस मामले में कुल 15 नामजद तथा 8-10 अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध भादवि की विभिन्न धाराओं के साथ साथ म.प्र.लोक सम्पत्ति नुकसान निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया था।

पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए 48 घण्टो में इस मामले में लिप्त रहे कुल 32 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस और प्रशासन की ओर से कहा गया है कि गिरफ्तार आरोपियों से सारे नुकसान की वसूली की जाएगी। इसके अलावा इन आरोपियों द्वारा अवैध तरीके से अर्जित की गई सम्पत्तियों की जांच कर उन्हे भी ध्वस्त किया जाएगा।

Leave a Reply