दो मौतें-144 लागू-इंटरनेट बंद-सैकड़ों गिरफ्तार..सहारनपुर से रांची तक हिंसा के बाद एक्शन जारी

रांची में शुक्रवार के दिन भड़की हिंसा में घायल दो लोगों की उपचार के दौरान मौत हो गई. रांची, हावड़ा, प्रयागराज समेत कई शहरों में धारा 144 लागू है तो वहीं, सैकड़ों लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है. हावड़ा और रांची में इंटरनेट बंद है.

रांची में हुई थी आगजनी (फाइल फोटोः पीटीआई)

रांची में हुई हिंसा के बाद प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है. अब रांची के 12 पुलिस स्टेशन क्षेत्रों में धारा 144 साथ-साथ अब अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात कर दी गई है. वहीं यहां एसआईटी भी गठित कर दी गई है. वहीं प्रशासन ने इंटरनेट की सेवाओं पर लगे सस्पेंशन को भी आज तक के लिए बढ़ा दिया है.

  • रांची में 12 और हावड़ा में 13 जून तक इंटरनेट बंद
  • यूपी में अब तक 235 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

नूपुर शर्मा के बयान पर मचे घमासान ने अब हिंसक रूप ले लिया है. प्रयागराज से कोलकाता और सहारनपुर से रांची तक, तेजी से फैली हिंसा की आग ने सड़कों को अपनी आगोश में ले लिया. आगजनी की तस्वीरें, सड़कों पर बिखरे ईंट-पत्थर के टुकड़े और हर तरफ बिखरे चप्पल… हालात की कहानी बयान कर रहे थे. इसे लेकर पुलिस अब एक्शन में है.

राज्य दर राज्य, शहर दर शहर गिरफ्तारियां की जा रही हैं. यूपी के सहारनपुर से लेकर झारखंड के रांची तक, पुलिस प्रशासन का एक्शन जारी है. वीडियो और सीसीटीवी फुटेज के खंगाले जा रहे हैं. प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारियां की जा रही हैं तो वहीं कई शहरों में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है. कई जगह प्रशासन ने धारा 144 भी लागू कर दिया है. सैकड़ों प्रदर्शनकारी गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

प्रयागराज हिंसा का मास्टरमाइंड गिरफ्तार

प्रयागराज में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप को पकड़ा है. जावेद को पुलिस प्रयागराज हिंसा का मास्टरमाइंड बता रही है. पुलिस के मुताबिक जावेद के मोबाइल फोन में 10 जून को भारत बंद के आह्वान और लोगों को भड़काने वाली सामग्री मिली है. पुलिस वीडियो और सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों की पहचान कर गिरफ्तारी की कोशिशों में जुटी है.

यूपी में गिरफ्तारियों का सिलसिला जारी

यूपी के कई शहरों में हिंसा के बाद पुलिस का एक्शन जारी है. पुलिस ने हिंसा के मामले में 235 लोगों को गिरफ्तार किया है. सबसे अधिक 70 प्रदर्शनकारियों को प्रयागराज पुलिस ने गिरफ्तार किया है. हाथरस में 50, सहारनपुर में 54, अंबेडकरनगर में 28, मुरादाबाद में 25, फिरोजाबाद में 8 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार किए गए हैं. प्रयागराज पुलिस ने इस मामले में 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

रांची में दो की मौत, कल तक इंटरनेट बंद

झारखंड की राजधानी रांची में प्रदर्शन के दौरान घायल हुए दो लोगों की उपचार के दौरान अस्पताल में मौत हो गई. रांची के 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लगा दिया गया है. प्रशासन ने कल यानी 12 जून तक के लिए इंटरनेट बैन कर दिया है. रांची प्रशासन ने लोगों से घर में ही रहने के लिए कहा है. प्रशासन की ओर से सार्वजनिक तौर पर ये ऐलान कराया गया है कि घर से बाहर निकलने वालों को हिरासत में लिया जाएगा.

हावड़ा में फिर हिंसा, धारा 144 लागू

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में लगातार दूसरे दिन भी हिंसा भड़क उठी. उलुबेरिया के पांचाल इलाके में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर ईंट-पत्थर चलाए. पुलिस ने हालात को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले भी दागे. बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को पुलिस ने उनके घर में ही अरेस्ट कर लिया है. वे हिंसा प्रभावित पांचाल जाने वाले थे जहां प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी कार्यालय में आग लगा दी थी. हावड़ा में 70 प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिंसा के मामले में गिरफ्तार कर लिया है.

ममता बनर्जी ने बीजेपी पर साधा निशाना

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि बीजेपी करे और आम जनता भुगते? उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक दल हिंसा भड़काना चाहते हैं. ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जहां बीजेपी पर निशाना साधा है, वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने हिंसा के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी पीएफआई का हाथ बताया है.

PFI और AIMIM पर बैन की मांग

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राव मुशर्रफ अली ने देश के अलग-अलग इलाकों में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के लिए पीएफआई, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के साथ ही मौलाना तौकीर रजा के संगठन का हाथ बताया है. उन्होंने इन संगठनों पर प्रतिबंध लगाने और प्रदर्शनकारियों के खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की भी मांग की है

,

Leave a Reply