आखिर वसुंधरा राजे की अमित शाह से दिल्ली में मुलाकात हुई। पश्चिम बंगाल चुनाव में हो सकती है महत्वपूर्ण भूमिका।

आखिर कार 1 फरवरी की रात को राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की मुलाकात केन्द्रीय गृहमंत्री अमितशाह से हो ही गई। इस मुलाकात का राजनीतिक क्षेत्रों में लम्बे समय से इंतजार था। कोई पौने घंटे की मुलाकात में दोनों नेताओं के बीच राजस्थान और पश्चिम बंगाल की राजनीति को लेकर चर्चा हुई। यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है, जब कहा जा रहा है कि राजे अपनी उपेक्षा से नाराज हैं। इसलिए राजस्थान में जिला स्तर पर टीम वसुंधरा राजे बन चुकी है। लेकिन राजे को भी यह पता है कि पार्टी से अलग होकर राजनीति करना आसान नहीं है। राजे भले ही प्रदेश के भाजपा नेताओं के समक्ष अपनी नाराज़गी जताएं लेकिन राष्ट्रीय नेताओं के समक्ष अपनी वफादारी दिखाने में राजे ने कभी कोई कसर नहीं छोड़ी। पिछले दो वर्ष से राजस्थान में वसुंधरा राजे के बगैर ही भाजपा चल रही है, लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर राजे के महत्व को बरकरार रखा गया है। राजे अमित शाह की कार्यकारिणी में भी भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थीं और अब जेपी नड्डा की कार्यकारिणी में भी उपाध्यक्ष बनी हुई हैं। हाल ही में राजस्थान की कोर कमेटी में भी राजे को शामिल किया गया है। सूत्रों की माने तो एक फरवरी की मुलाकात में अमितशाह ने राजे के समक्ष पश्चिम बंगाल के चुनाव में भूमिका निभाने का प्रस्ताव रखा है। चूंकि पश्चिम बंगाल में फायर ब्रांड मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भाजपा का मुकाबला है, इसलिए अमितशाह चाहते हैं कि वसुंधरा राजे बंगाल में सक्रिय हों। यहां यह खासतौर से उल्लेखनीय है कि बंगाल में चुनाव की कमान अमितशाह के पास है और अमितशाह ममता बनर्जी के सामने भाजपा की तेजतर्रार महिला नेताओं की टीम उतारना चाहते हैं। गत 30 जनवरी को जब अमितशाह तय कार्यक्रम के मुताबिक बंगाल के दौरे पर नहीं जा सके तब अचानक केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को भेजा गया था। अमितशाह बंगाल में जो रणनीति बना रहे हैं, उसके अंतर्गत वसुंधरा राजे की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। जहां तक राजस्थान की राजनीति में राजे की सक्रियता का सवाल है तो राष्ट्रीय नेतृत्व से राजे को कोई पुख्ता भरोसा नहीं मिला है, लेकिन राजनीति में राजे के महत्व को राष्ट्रीय नेतृत्व कम नहीं आंकता है। अमितशाह से राजे की मुलाकात का असर मौजूदा समय में प्रदेश में भाजपा की राजनीति पर नहीं पड़ेगा।

Leave a Reply