भाजपा ने शुरू किया हस्ताक्षर अभियान, 21 को सौंपेंगे ज्ञापन

बालाघाट. भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में नगरीय निकाय में अध्यक्ष व महापौर के चुनाव पार्षदों द्वारा कराए जाने का विरोध किया है। जिसके लिए भाजपा निकाय क्षेत्रों में हस्ताक्षर अभियान चला रही है। जिसकी शुरूआत 18 अक्टूबर से हो गई। यह हस्ताक्षर अभियान 20 तक चलेगा। 21 अक्टूबर को राज्यपाल के नाम कलेक्टर को हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपा जाएगा। यह बातें भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश रंगलानी ने कही। वे शुक्रवार को भाजपा जिला कार्यालय में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे।
भाजपा जिला अध्यक्ष रंगलानी का कहना है कि कांग्रेस निकाय चुनावों में काबिज नहीं हो रही थी और अधिकांश स्थानों पर भाजपा के अध्यक्ष व महापौर चुने गए थे। इसे भांपते हुये कांग्रेस ने अध्यक्ष का चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली अर्थात सीधे जनता से चुनने के बजाय पार्षदों से कर दिया है। इन चुनावों में कांग्रेस सीधे चुनाव नहीं जीत रही थी इसलिए उसने इस तरह का ताना बुना हैं। जबकि कांग्रेस के मुख्यमंत्री रहते हुए दिग्विजय सिंह ने ही इसे प्रारंभ किया था। वर्ष 1999 से जनता अध्यक्ष का चुनाव कर रही थी। इस तरह के चुनाव से पार्षदों को खरीद-फरोख्त को बढ़ावा मिलेगा। अध्यक्ष बनने के लिए लोकतंत्र में इस तरह का कार्य ठीक नहीं होगा। इसके अलावा अध्यक्ष पर पार्षदों का दबाव रहेगा। जिसके कारण अस्थिरता की स्थिति बनी रहेगी और इससे अध्यक्ष दबाव में रहकर कार्य करेगा। जिससे विकास कार्य भी प्रभावित होगें। उन्होंने बताया कि बालाघाट जिले की समस्त कुल 6 नगरपालिका व नगर पंचायतें मे हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा हैं।

Leave a Reply